'Supreme court collegium' - 60 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | शनिवार फ़रवरी 13, 2021 12:48 PM IST
    बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर बेंच की जज पुष्पा गनेडीवाला ने अपने 19 जनवरी को पास किए गए आदेश में कहा था कि किसी भी छेड़छाड़ की घटना को यौन शोषण की श्रेणी में रखने के लिए घटना में 'यौन इरादे से किया गया स्किन टू स्किन कॉन्टैक्ट' होना चाहिए.
  • India | शनिवार जनवरी 30, 2021 10:55 AM IST
    दरअसल बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर पीठ की जज जस्टिस गनेदीवाला के फैसलों में से एक पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी थी. केंद्र ने इस फैसले के खिलाफ अपील की है. इस फैसले में कड़े पोक्सो कानून के तहत एक व्यक्ति को यह कहते हुए राहत दी गई है कि स्किन टू स्किन संपर्क नहीं है इसलिए पोक्सो के तहत धारा नहीं लगाई जा सकती है और यह यौन हमले के समान नहीं है. 
  • India | बुधवार दिसम्बर 30, 2020 09:57 AM IST
    गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने अप्रत्याशित कदम उठाते हुये छह अक्टूबर को प्रधान न्यायाधीश को पत्र लिखा था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि न्यायमूर्ति माहेश्वरी के नेतृत्व वाले आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय का उनकी निर्वाचित सरकार को अस्थिर करने के लिये इस्तेमाल किया जा रहा है.
  • India | मंगलवार दिसम्बर 15, 2020 10:14 PM IST
    सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने हाईकोर्ट जजों के लिए सिफारिश की है. सूत्रों के अनुसार पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से जस्टिस एस मुरलीधर को उड़ीसा हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश की गई है. दिल्ली हाईकोर्ट की जज जस्टिस हिमा कोहली को तेलंगाना हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस नियुक्त किया जाएगा. 
  • India | रविवार अप्रैल 19, 2020 08:37 PM IST
    सुप्रीम कोर्ट के तीन शीर्षस्थ जजों के कॉलेजियम ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज जस्टिस विश्वनाथ सोमद्दार को मेघालय हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त करने की सिफारिश भी की है. जस्टिस सोमद्दार इससे पहले कलकत्ता हाइकोर्ट में जज थे. कोलेजियम ने मेघालय हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस मोहम्मद  रफीक का तबादला ओडिशा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के रूप में करने की सिफारिश भी की है. 
  • India | शनिवार सितम्बर 21, 2019 11:20 AM IST
    केंद्र सरकार की असहमति के चलते सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने जस्टिस अकील कुरैशी को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाने के बजाए अब उन्हें त्रिपुरा हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाने की सिफारिश की है. कोलेजियम ने 10 मई को जस्टिस अकील का नाम मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद के लिए सिफारिश की थी.
  • India | गुरुवार सितम्बर 12, 2019 10:50 PM IST
    मद्रास हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस वीके तहिलरमानी के इस्तीफे के मामले में सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने ट्रांसफर करने के फैसले को सही ठहराया.
  • India | गुरुवार अगस्त 29, 2019 02:32 PM IST
    सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने अपनी मीटिंग में हिमाचल प्रदेश हाइकोर्ट के चीफ जस्टिस राम सुब्रमण्यन, पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से जस्टिस कृष्ण मुरारी, राजस्थान हाईकोर्ट से आर रविन्द्र भट्ट और केरल हाइकोर्ट से हृषिकेश रॉय के नाम की सिफारिश सर्वोच्च न्यायालय का जज नियुक्त करने के लिए सरकार को भेजी है. कानून और न्याय मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक अगले दो तीन दिनों में ही सरकार इस पर निर्णय कर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम को बताएगी.
  • Blogs | सोमवार जुलाई 8, 2019 08:10 PM IST
    इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज रंगनाथ पांडेय ने अपने रिटायमेंट से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक चिट्ठी लिखी, जिसमें उन्होंने कहा कि न्यायपालिका में जजों की नियुक्ति बंद कमरों में चाय पर चर्चा करते-करते हो जाती है. यहां कोई पारदर्शिता नहीं है. नियुक्ति में भाई-भतीजावाद और जातिवाद हावी है. जिसका मतलब है कि जजों के बच्चे या रिश्तेदार ही जज बनते हैं.
  • India | गुरुवार मई 9, 2019 11:14 AM IST
    केंद्र की दलील को खारिज करते हुए जस्टिस अनिरुद्ध बोस और जस्टिस एएस बोपन्ना की सुप्रीम कोर्ट में जज की नियुक्ति की लेकर सिफारिश एक बार फिर केंद्र सरकार के पास भेजी गई है. कॉलेजियम ने कहा है कि वरिष्ठता पर मेरिट को तरजीह दी जानी चाहिए. बता दें, केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की सिफारिश को नकार दिया था. सरकार ने वरिष्ठता का हवाला देकर जस्टिस अनिरुद्ध बोस और जस्टिस एएस बोपन्ना की सिफारिश पर कॉलेजियम को फिर से विचार करने को कहा था.
  • India | मंगलवार मई 7, 2019 11:17 PM IST
    सुप्रीम कोर्ट में दो जजों की नियुक्ति को लेकर केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की सिफारिश को नकार दिया है.
  • India | सोमवार फ़रवरी 18, 2019 10:22 AM IST
    बातचीत के दौरान सीजेआई रंजन गोगोई ने न्यायपालिका से जुड़े कई अहम मुद्दों पर अपना राय रखी. उन्होंने कहा कि आजकल एक नया ट्रेंड शुरू हुआ है कि पक्ष में फैसला न आने पर जजों पर निशाना साधा जा रहा है. यह सही नहीं है, इस वजह से युवा जज नहीं बन रहे हैं. क्योंकि लोग आजकल कोर्ट के फैसलों को लेकर जजों को कीचड़ उछाल रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम के फैसले बदले जाने पर भी अपने विचार रखे, उन्होंने कहा कि यह कोई नया नहीं है. पहले भी ऐसा हो चुका है.
  • India | सोमवार फ़रवरी 18, 2019 10:22 AM IST
    एनडीटीवी ने चीफ जस्टिस रंजन गोगोई से एक्सलूसिव बातचीत की. इस दौरान उन्होंने न्यायपालिका के कई मुद्दों पर चर्चा की. सीजेआई ने पहली बार कॉलेजियम की सिफारिशों को बदलने पर हुए विवाद पर भी बातचीत की. उन्होंने कहा कि कॉलेजियम के फैसले को सरकार को भेजे जाने से पहले बदला जाना कोई असामान्य बात नहीं है. अगर सरकार को भेजे जाने से पहले फैसले को बदला जाता है तो इसके पीछे कारण होते हैं.
  • India | बुधवार जनवरी 23, 2019 08:42 PM IST
    सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस मदन बी लोकुर ने बुधवार को कहा कि वे इस बात से निराश हैं कि विवादों में रही जजों की पदोन्नति पर शीर्ष अदालत के कॉलेजियम का 12 दिसंबर का फैसला सार्वजनिक नहीं किया गया.
  • Blogs | बुधवार जनवरी 16, 2019 11:46 PM IST
    जजों को नियुक्त करने वाली सुप्रीम कोर्ट की संस्था कॉलेजियम के फैसले को लेकर विवाद हो गया है. कॉलेजियम में सुप्रीम कोर्ट के पांच जज होते हैं. इस कॉलेजियम ने 12 दिसंबर की बैठक में तय किया कि दिल्ली हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस राजेंद मेनन और राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस प्रदीप नंदराजोग का प्रमोशन सुप्रीम कोर्ट में होगा. मगर उस बैठक के बाद सरकार को बैठक का फैसला ही नहीं भेजा गया.
  • Blogs | बुधवार जनवरी 16, 2019 05:11 PM IST
    भ्रष्टाचार के विरुद्ध अन्ना आंदोलन में लोकपाल को हर मर्ज़ की दवा बताया गया. 'सुशासन' और 'अच्छे दिन' के नाम पर आम आदमी पार्टी (AAP) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने दिल्ली की सत्ता हासिल कर ली, पर लोकपाल का कोई अता-पता नहीं है. सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस और उसके बाद CBI में आधी रात को तख्तापलट की घटना के बाद संस्थाओं में आंतरिक संघर्ष बढ़ता जा रहा है. इन घटनाओं से भारत के लोकतंत्र और संवैधानिक व्यवस्था पर अनेक सवाल खड़े हो गए हैं.
  • India | बुधवार जनवरी 16, 2019 02:12 PM IST
    इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस संजय किशन कौल (Justice Sanjay Kishan Kaul) ने भी सवाल उठाए थे. जस्टिस कौल ने सीजेआई रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) को खत लिखा है. खत में कहा गया है कि वरिष्ठता के क्रम में आगे राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस प्रदीप नंदराजोग पर जस्टिस खन्ना को वरियता देना ठीक नहीं. कॉलेजियम के इस फैसले से गलत संदेश जाएगा.
  • India | बुधवार जनवरी 16, 2019 01:32 PM IST
    इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर जज जस्टिस कैलाश गंभीर ने भी राष्ट्रपति को खत लिखकर कॉलेजियम के इस फैसले का विरोध जताया था. जस्टिस कैलाश गंभीर ने 32 न्यायाधीशों की वरिष्ठता की कथित अनदेखी करते हुए न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना को सुप्रीम कोर्ट में भेजे जाने की कॉलेजियम की सिफारिश के खिलाफ राष्ट्रपति को एक पत्र लिखा है. यह पत्र सोमवार को लिखा गया है, जो दो पन्नों का है. इसमें इस बात का जिक्र किया गया है कि न्यायमूर्ति खन्ना दिवंगत न्यायामूर्ति एचआर खन्ना के भतीजे हैं, जिन्होंने आपातकाल के दौरान असहमति वाला एक फैसला दिया था जिसके बाद उनकी वरिष्ठता को नजरअंदाज करके किसी और को प्रधान न्यायाधीश बनाया गया था.
और पढ़ें »
'Supreme court collegium' - 16 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »

Supreme court collegium वीडियो

Supreme court collegium से जुड़े अन्य वीडियो »

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com