NDTV Khabar

Supreme court on cbi


'Supreme court on cbi' - 15 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • उन्नाव गैंगरेप केस: सुप्रीम कोर्ट ने सड़क हादसे की जांच पूरी करने के लिए CBI को दिए दो और हफ्ते

    उन्नाव गैंगरेप केस: सुप्रीम कोर्ट ने सड़क हादसे की जांच पूरी करने के लिए CBI को दिए दो और हफ्ते

    सीबाआई की ओर से रजत नैयर ने कोर्ट को बताया कि जांच में तमाम वैज्ञानिक व इलेक्ट्रानिक्स सबूत जुटाए गए हैं. अब उनका मिलान करना है. पीड़िता और उनके वकील के बयान नहीं हो पाए है, जिसकी वजह से जांच पूरी नहीं हो सकी है. इसलिए कोर्ट चार हफ्ते का वक्त और दे. लेकिन कोर्ट ने उनकी चार हफ्ते की मांग को ठुकराते हुए दो हफ्ते का और समय दिया है.

  • आय से अधिक संपत्ति का मामला : बढ़ सकती हैं मुलायम-अखिलेश की मुश्किल, सुप्रीम कोर्ट ने CBI से 2 हफ्ते में मांगा जवाब

    आय से अधिक संपत्ति का मामला : बढ़ सकती हैं मुलायम-अखिलेश की मुश्किल, सुप्रीम कोर्ट ने CBI से 2 हफ्ते में मांगा जवाब

    आय से अधिक संपत्ति के मामले में मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव और प्रतीक यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सीबीआई को नोटिस जारी कर दो हफ्ते में जवाब मांगा है. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि 2007 में सीबीआई ने स्टेटस रिपोर्ट में कहा था कि पहली नजर में केस बनता है इसलिए नियमित केस दर्ज कर जांच होनी चाहिए. अब कोर्ट ये जानना चाहता है कि इस केस में क्या हुआ? केस दर्ज हुआ या नहीं.

  • SC ने वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का नोटिस जारी किया, नागेश्वर राव की नियुक्ति पर दिया था बयान

    SC ने वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का नोटिस जारी किया, नागेश्वर राव की नियुक्ति पर दिया था बयान

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम बड़े मुद्दे पर बहस कर रहे हैं कि जब कोई मामला अदालत में लंबित हो तो क्या कोर्ट की आलोचना कर पब्लिक ऑपिनियन बनाना किसी पक्ष के न्याय पाने के अधिकार का हनन करता है. सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को इस नोटिस पर तीन हफ्ते जवाब देने के लिए कहा है. वहीं अटॉर्नी जनरल और केंद्र सरकार को उनके जवाब पर एक हफ्ते में अपना जवाब देने देगा. सुप्रीम कोर्ट अब इस मामले की सुनवाई सात मार्च को करेगा.

  • CBI vs CBI: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सरकार की सफाई: हमने CVC की सिफारिश पर भेजा था छुट्टी

    CBI vs CBI: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सरकार की सफाई: हमने CVC की सिफारिश पर भेजा था छुट्टी

    केंद्र सरकार द्वारा इस फैसले पर सफाई आई है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि हमने कुछ नहीं किया, हमने सीवीसी की सिफारिश पर छुट्टी पर भेजा था. उन्होंने कहा कि हमने सीबीआई की स्वतंत्रता, विश्वसनीयता और प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हुए सीवीसी की सिफारिश ईमानदारी से मानी थी और सीबीआई अधिकारी को छुट्टी पर भेजा था.

  • CBI vs CBI: केजरीवाल बोले- SC का फैसला प्रधानमंत्री पर कलंक, जानें- किसने क्या कहा?

    CBI vs CBI: केजरीवाल बोले- SC का फैसला प्रधानमंत्री पर कलंक, जानें- किसने क्या कहा?

    कोर्ट ने कहा है कि वर्मा अभी नीतिगत फैसले नहीं ले पाएंगे, अभी वे रोजाना के कामकाज में प्रशासनिक फैसले ही लेंगे. सुप्रीम कोर्ट का फैसला अभी सीजेआई, प्रधानमंत्री और नेता विपक्ष वाली सेलेक्ट कमेटी को भेजा जाएगा. सेलेक्ट कमेटी आगे का फैसला लेगी कि वर्मा को पद से हटाया जाए या नहीं.

  • सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को मिली दफ्तर जाने की इजाजत, सुप्रीम कोर्ट के फैसले की 8 बड़ी बातें

    सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को मिली दफ्तर जाने की इजाजत, सुप्रीम कोर्ट के फैसले की 8 बड़ी बातें

    सीबीआई में रिश्वत कांड के बाद CBI चीफ आलोक वर्मा को जबरन छुट्टी पर भेजे जाने का फैसला सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा है कि आलोक वर्मा अभी कोई नीतिगत फैसला नहीं ले सकते हैं. वह अपने दफ्तर जा सकते हैं. आपको बता दें कि सीबीआई में विवाद उस समय शुरू हुआ था जब सीबीआई के दूसरे नंबर के अधिकारी राकेश अस्थाना पर रिश्वत लेने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई थी. यह अपने आप में पहली बार था जब सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर पर सीबीआई ने ही केस दर्ज किया हो. लेकिन इस कार्रवाई के बाद राकेश अस्थाना ने भी चीफ पर 2 करोड़ की रिश्वत लेने का आरोप लगा दिया. यह मामला मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप झेल रहे मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से जुड़ा था. इसके बाद दोनों अधिकारियों मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए. फिलहाल इस मामले की सुनवाई अभी कोर्ट में है. आज जस्टिस संजय किशन कौल ने फैसला सुनाया है क्योंकि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई छुट्टी पर हैं. फैसले के वक्त जस्टिस जोसेफ भी मौजूद थे. फैसला तीनों जजों की सहमति से लिखा गया है.

  • जवाब की बातें लीक होने पर CBI चीफ के वकील को सुप्रीम कोर्ट ने फटकारा, सुनवाई भी 29 नवंबर तक के लिए टाली

    जवाब की बातें लीक होने पर CBI चीफ के वकील को सुप्रीम कोर्ट ने फटकारा, सुनवाई भी 29 नवंबर तक के लिए टाली

    सीवीसी की रिपोर्ट पर सीबीआई चीफ आलोक वर्मा  के जवाब के कुछ अंश लीक होने पर नाराज सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 29 नवंबर तक के लिए टाल दी है. सुनवाई के दौरान प्रधान न्यायाधीश ने पूछा आलोक वर्मा के वकील से पूछा कि हम ये रिपोर्ट आपको वर्मा के वकील के तौर पर नहीं वरिष्ठ वकील के तौर पर दी थी ये पेपर बाहर कैसे आ गए.

  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई के अंतरिम चीफ सिर्फ 'रबर स्टांप', 10 बड़ी बातें

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई के अंतरिम चीफ सिर्फ 'रबर स्टांप', 10 बड़ी बातें

    सुप्रीम कोर्ट ने छुट्टी पर भेजे गए सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा पर लगे आरोपों की जांच की निगरानी के लिए शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश ए.के.पटनायक की नियुक्ति की है. इस मामले की पूर्ण जांच के लिए केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) को दो सप्ताह का समय दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक आलोक वर्मा की अर्जी पर शुक्रवार को सीबीआई, केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) और केंद्र सरकार से जवाब तलब किया. वर्मा ने खुद को जबरन छुट्टी पर भेजे जाने और सारे अधिकार वापस लिए जाने के सरकार के फैसले को चुनौती दी है. न्यायालय ने निर्देश दिया कि सीबीआई के अंतरिम निदेशक बनाए गए एम. नागेश्वर राव कोई नीतिगत फैसला नहीं करेंगे.

  • मणिपुर फर्जी एनकाउंटर मामला : सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

    मणिपुर फर्जी एनकाउंटर मामला : सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

    मणिपुर फर्जी एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर से पूछा, तो 'आप चाहते हैं कि मणिपुर हत्यारों से घिरा रहे?' सीबीआई डायरेक्टर ने कहा कि 30 सालों बाद उनके पास से कुछ बरामद नहीं हुआ.

  • CBI ने SC से कहा, 1993 से 2005 के बीच आवंटित 22 कोयला ब्लॉक के आवंटन की जांच बंद

    CBI ने SC से कहा, 1993 से 2005 के बीच आवंटित 22 कोयला ब्लॉक के आवंटन की जांच बंद

    उसने शीर्ष अदालत से कहा कि इन 16 मामलों में से सात मामलों में अंतिम रिपोर्ट दायर की गई है, जबकि एक मामले में जांच पूरी हो गई है और अंतिम रिपोर्ट दायर की जानी बाकी है.

  • सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद इस्तीफा देंगे सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा?

    सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद इस्तीफा देंगे सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा?

    क्या सुप्रीम कोर्ट की फ़टकार के बाद सीबीआई निदेशक इस्तीफ़ा देंगे, ये सवाल अब सब पूछ रहे हैं। क्योंकि पहले कभी इस हद तक किसी निदेशक को कोर्ट में खुले आम बेइज्ज्त नहीं किया गया। ये फ़टकार इसलिए पड़ी क्योंकि सीबीआई निदेशक ने मारन के खिलाफ़ चार्जशीट दायर करने में एक साल की देर की।

  • कोयला घोटाला में प्रशांत भूषण की याचिका : सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक को नोटिस भेजा

    कोयला घोटाला में प्रशांत भूषण की याचिका : सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक को नोटिस भेजा

    सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा को एक और झटका लगा है। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने कोल ब्लॉक मामले में रंजीत सिन्हा को नोटिस भेजा है और उनसे 19 सितंबर तक जवाब मांगा है। दरअसल, प्रशांत भूषण ने एक याचिका में इस जांच से सीबीआई निदेशक को जांच से हटाने की मांग की है।

  • अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा चलाने को लेकर केंद्र और सीबीआई आमने-सामने

    अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा चलाने को लेकर केंद्र और सीबीआई आमने-सामने

    सीबीआई और केंद्र गुरुवार को उच्चतम न्यायालय में कोयला घोटाला मामले में एक-दूसरे के आमने-सामने थे। जहां जांच एजेंसी ने जोर दिया कि घोटाले में नौकरशाहों के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पूर्व अनुमति की जरूरत नहीं है, वहीं सरकार ने इसका जोरदार विरोध किया।

  • सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, किसके कहने पर क्या-क्या हुए बदलाव?

    सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, किसके कहने पर क्या-क्या हुए बदलाव?

    सीबीआई ने उच्चतम न्यायालय को बताया कि कोयला मंत्रालय इस घोटाले में सभी जरूरी सूचनाएं मुहैया नहीं करा रहा है। न्यायालय ने सीबीआई निदेशक को आदेश दिया कि वह इस बात का हलफनामा दें कि स्थिति रिपोर्ट में क्या बदलाव हुए थे और यह किसके कहने पर किए गए थे।

  • बिना जांचे-परखे मनमर्जी से किया गया कोयला आवंटन : सीबीआई

    बिना जांचे-परखे मनमर्जी से किया गया कोयला आवंटन : सीबीआई

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि उसे सीबीआई से यह आश्वासन चाहिए कि वह जांच का ब्यौरा नेताओं को नहीं देगी और इस सिलसिले में सीबीआई निदेशक को एक हलफनामा देना होगा।