NDTV Khabar

Today history


'Today history' - 77 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • आज का इतिहास: आज ही के दिन भारत संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित हुआ

    आज का इतिहास: आज ही के दिन भारत संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित हुआ

    भारत विविध धर्मों, आस्थाओं और संस्कृतियों का देश है और यहां हर दिन कोई न कोई त्यौहार मनाया जाता है. हर धर्म को मानने वाले लोग पूरे उल्लास के साथ अपने पर्व मनाते हैं, लेकिन कुछ त्यौहार ऐसे भी हैं, जो प्रत्येक देशवासी के लिए महत्वपूर्ण हैं और पूरे देश में सम्मान और स्नेह के साथ मनाए जाते हैं. Today in History India Republic Day 26 January

  • आज का इतिहास: हिमाचल प्रदेश को 25 जनवरी को मिला था राज्य का दर्जा

    आज का इतिहास: हिमाचल प्रदेश को 25 जनवरी को मिला था राज्य का दर्जा

    25 जनवरी 1971 को हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया था. आजादी से पहले हिमाचल प्रदेश ब्रिटिश भारते के पंजाब प्रांत का हिस्सा था. आाजादी मिलने के बाद इसे चीफ कमिश्नर प्रोविंस ऑफ हिमाचल प्रदेश नाम दिया गया. बाद में इसे केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया. 1966 में पंजाब के पहाड़ी इलाकों को भी हिमाचल प्रदेश में शामिल किया गया.

  • आज का इतिहास: आज के दिन दुर्घटनाग्रस्त हुआ था Air India का विमान बोइंग 707, 117 लोगों की गई थी जान

    आज का इतिहास: आज के दिन दुर्घटनाग्रस्त हुआ था Air India का विमान बोइंग 707, 117 लोगों की गई थी जान

    साल का हर दिन किसी न किसी घटना के गवाह के तौर पर इतिहास में दर्ज है. साल 1966 में आज ही के दिन एयर इंडिया के विमान बोइंग 707 के दुर्घटनाग्रस्त होने से उसमें सवार 117 लोगों की मौत हुई थी. इस दुर्भाग्यपूर्ण हादसे ने देश के लोगों को हिला रख दिया था.

  • 23 जनवरी का इतिहास: आज है भारत के महानायक सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन

    23 जनवरी का इतिहास: आज है भारत के महानायक सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन

    Netaji Subhash Jayanti : खून के बदले आजादी देने का वादा करने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस का नाम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा है. 23 जनवरी 1897 को ओडिशा के कटक में एक संपन्न बांग्ला परिवार में जन्मे सुभाष अपने देश के लिए हर हाल में आजादी चाहते थे. उन्होंने अपना पूरा जीवन देश के नाम कर दिया और अंतिम सांस तक देश की आजादी के लिए संघर्ष करते रहे.

  • आज का इतिहास: दुनिया को ताज महल का तोहफा देने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का 22 जनवरी को हुआ था निधन

    आज का इतिहास: दुनिया को ताज महल का तोहफा देने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का 22 जनवरी को हुआ था निधन

    22 जनवरी को मुगल शहंशांह शहाजहां का निधन हुआ था. शाहजहां के नाम से मशहूर मुगल बादशाह का असली नाम शहाबुद्दीन मुहम्मद खुर्रम था. शाहजहां पांचवें मुगल बादशाह थे जिन्होंने साल 1628 से 1658 तक शासन किया. शाहजहां के शासन काल में  मुगल स्थापत्य अपनी बुलंदी पर था. शाहजहां ने ही ताजमहल का निर्माण कराया था. यही नहीं उन्होंने राजधानी दिल्ली में लाल किला और जामा मस्जिद का निर्माण भी करवाया.

  • आज का इतिहास: आज ही के दिन इंदिरा गांधी बनीं थीं देश की पहली महिला प्रधानमंत्री

    आज का इतिहास: आज ही के दिन इंदिरा गांधी बनीं थीं देश की पहली महिला प्रधानमंत्री

    साल के पहले महीने का 19वां दिन भारत के राजनीतिक इतिहास में एक बड़ी जगह रखता है. 1966 में वह 19 जनवरी का ही दिन था, जब इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) को देश का प्रधानमंत्री बनाया गया. तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की मौत के बाद इंदिरा गांधी ने वह कुर्सी संभाली जो स्वतंत्र भारत के इतिहास में पहली बार उनके पिता जवाहर लाल नेहरू ने संभाली थी. वह 1967 से 1977 और फिर 1980 से 1984 तक इस पद पर रहीं.

  • आज का इतिहास: 18 जनवरी को पहली बार पोत पर बनी हवाई पट्टी पर विमान उतारा गया

    आज का इतिहास: 18 जनवरी को पहली बार पोत पर बनी हवाई पट्टी पर विमान उतारा गया

    आज भले ही विभिन्न देशों के पास विशाल विमानवाहक पोत हैं और युद्ध एवं शांति के समय इनका उपयोग किया जाता है, लेकिन किसी जहाज की छोटी सी पट्टी पर पहली बार विमान को उतारने का श्रेय अमेरिका के पायलट यूजीन बर्टन एली को जाता है. उन्होंने 1911 में 18 जनवरी को पहली बार सान फ्रांसिस्को खाड़ी में खड़े जंगी जहाज पेंसिलवेनिया के उड़ान मंच पर विमान उतारने के जोखिमपूर्ण कार्य को अंजाम देकर अमेरिकी नौसेना के इतिहास में एक बड़ा मील का पत्थर स्थापित किया.

  • 17 जनवरी का इतिहास: आज है जाने माने शायर, गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर का बर्थडे

    17 जनवरी का इतिहास: आज है जाने माने शायर, गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर का बर्थडे

    जाने माने शायर, गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर का आज जन्मदिन है. जावेद अख्तर को पद्म श्री, पद्म भूषण, साहित्य अकादमी पुरस्कार और पांच बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है. वे दीवार, ज़ंजीर और शोले जैसी फिल्मों की पटकथा लिख चुके हैं. उन्होंने कई सारी हिंदी फिल्मों के लिए गीत लिखे. जावेद अख्तर राज्यसभा सदस्य भी रह चुके हैं.

  • आज का इतिहास: 16 जनवरी को ही दूसरी अंतरिक्ष यात्रा पर रवाना हुई थीं कल्पना चावला

    आज का इतिहास: 16 जनवरी को ही दूसरी अंतरिक्ष यात्रा पर रवाना हुई थीं कल्पना चावला

    16 जनवरी (16 January) की तारीख भारत की एक बेटी की बड़ी उपलब्धि की साक्षी है, जिसने सात समंदर पार अमेरिका जाकर अंतरिक्ष यात्री बनने के अपने सपने को पूरा किया और एक बार नहीं बल्कि नासा ने उन्हें दो बार अंतरिक्ष यात्रा के लिए चुना. हम कल्पना चावला की बात कर रहे हैं, जिन्होंने 16 जनवरी 2003 को स्पेस शटल कोलंबिया से अंतरिक्ष में दूसरी बार उड़ान भरी.

  • आज का इतिहास: आज ही के दिन जनरल करियप्पा बने थे भारत के पहले सेना प्रमुख

    आज का इतिहास: आज ही के दिन जनरल करियप्पा बने थे भारत के पहले सेना प्रमुख

    भारत और विश्व के इतिहास में 15 जनवरी की तारीख में कई महत्वपूर्ण घटनाएं दर्ज हैं. आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर की जगह तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा ने ली थी. इसके अलावा आज के इतिहास में भारत और नेपाल में 1934 में आए भीषण भूकंप की दुखद घटना दर्ज है.

  • आज का इतिहास: 14 जनवरी के दिन ही हुई थी पानीपत की तीसरी लड़ाई

    आज का इतिहास: 14 जनवरी के दिन ही हुई थी पानीपत की तीसरी लड़ाई

    भारत के इतिहास में 14 जनवरी की तारीख का एक खास महत्व है. 1761 में 14 जनवरी के दिन अफगान शासक अहमद शाह अब्दाली की सेना और मराठों के बीच पानीपत की तीसरी लड़ाई (Third Battle of Panipat) हुई थी. इस युद्ध को 18वीं सदी के सबसे भयंकर युद्ध के रूप में याद किया जाता है, जिसमें मराठों को हार का सामना करना पड़ा.

  • आज का इतिहास: आज के दिन साम्प्रदायिक उन्माद के खिलाफ बापू ने शुरू किया था अनशन

    आज का इतिहास: आज के दिन साम्प्रदायिक उन्माद के खिलाफ बापू ने शुरू किया था अनशन

    महात्मा गांधी का नाम ना केवल भारतीय जनमानस में बल्कि पूरी दुनिया में स्थायी छाप की तरह मौजूद है. 13 जनवरी की तारीख का गांधीजी से गहरा नाता है. उन्होंने 13 जनवरी, 1948 को विभाजन की त्रासदी से उपजे साम्प्रदायिक उन्माद के खिलाफ कलकत्ता में आमरण अनशन शुरू किया था.

  • आज का इतिहास: आज है युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद की जयंती

    आज का इतिहास: आज है युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद की जयंती

    अमेरिका के शिकागो में धर्म सभा में अपने धाराप्रवाह भाषण के कारण अंतरराष्ट्रीय सुर्खियों में आए भारतीय संयासी स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) का जन्म 12 जनवरी 1863 को बंगाल में हुआ था. स्वामी विवेकानंद अपने ओजपूर्ण और बेबाक भाषणों के कारण काफी लोकप्रिय हुए, विशेषकर युवाओं में.

  • आज का इतिहास: 11 जनवरी को हुआ था देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का निधन

    आज का इतिहास: 11 जनवरी को हुआ था देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का निधन

    देश के दूसरे प्रधानमंत्री और ‘जय जवान, जय किसान' का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री का 11 जनवरी 1966 को ही निधन हुआ था. अपनी साफ सुथरी छवि और सादगी के लिए प्रसिद्ध शास्त्री ने प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के निधन के बाद नौ जून 1964 को प्रधानमंत्री का पदभार ग्रहण किया था. वह करीब 18 महीने तक देश के प्रधानमंत्री रहे. उनके नेतृत्व में भारत ने 1965 की जंग में पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी. ताशकन्द में पाकिस्तान के राष्ट्रपति अयूब खान के साथ युद्ध समाप्त करने के समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद 11 जनवरी 1966 की रात में रहस्यमय परिस्थितियों में उनकी मृत्यु हो गयी.

  • आज का इतिहास: 10 जनवरी को हुई थी विश्व हिन्दी दिवस मनाने की घोषणा

    आज का इतिहास: 10 जनवरी को हुई थी विश्व हिन्दी दिवस मनाने की घोषणा

    यूं तो हर तारीख का कोई न कोई इतिहास होता है, लेकिन 10 जनवरी का इतिहास कई मायनों में, खासतौर पर हिन्दी प्रेमियों के लिए काफी अहम है, क्योंकि इस दिन विश्व हिन्दी दिवस मनाया जाता है. पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने हिन्दी के प्रचार-प्रसार के लिए 2006 में प्रति वर्ष 10 जनवरी को हिन्दी दिवस मनाने की घोषणा की थी. विश्व में हिन्दी का विकास करने और एक अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर इसे प्रचारित-प्रसारित करने के उद्देश्य से विश्व हिन्दी सम्मेलनों की शुरुआत की गई और प्रथम विश्व हिन्दी सम्मेलन 10 जनवरी 1975 को नागपुर में आयोजित हुआ था.

  • आज का इतिहास: आज के दिन अंटार्कटिका पहुंचा था भारत का पहला वैज्ञानिक अभियान दल

    आज का इतिहास: आज के दिन अंटार्कटिका पहुंचा था भारत का पहला वैज्ञानिक अभियान दल

    धरती के चरम दक्षिण में स्थित बर्फीले अंटार्कटिक महाद्वीप पर पहला भारतीय अभियान दल नौ जनवरी 1982 को पहुंचा. यह भारत के लिए एक बड़ी भूराजनीतिक उपलब्धि थी.

  • आज का इतिहास: 8 जनवरी को ही संसार से विदा हुए थे फिल्म निर्देशक बिमल रॉय, कई प्रमुख घटनाएं हैं दर्ज

    आज का इतिहास: 8 जनवरी को ही संसार से विदा हुए थे फिल्म निर्देशक बिमल रॉय, कई प्रमुख घटनाएं हैं दर्ज

    भारतीय सिनेमा की बेहतरीन फिल्मों की जब बात की जाती है तो ''दो बीघा जमीन'', ''सुजाता'', ''बंदिनी'' और ''परिणीता'' फिल्म का जिक्र जरूर आता है. इन फिल्मों के निर्देशक बिमल रॉय थे, लेकिन भारतीय सिनेमा को उनका साथ लंबे समय तक नहीं मिला. कैंसर की वजह से आठ जनवरी 1966 में 56 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया.

  • आज का इतिहास: 7 जनवरी के इतिहास में दर्ज हैं ये घटनाएं

    आज का इतिहास: 7 जनवरी के इतिहास में दर्ज हैं ये घटनाएं

    वर्ष के हर दिन की तरह सात जनवरी का दिन भी बहुत सी अच्छी बुरी घटनाओं के साथ इतिहास के पन्नों में दर्ज है. वह सात जनवरी का ही दिन था, जब अंतिम मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर द्वितीय के खिलाफ अंग्रेजी हुकूमत ने मुकदमे की शुरूआत की. उनपर इलजाम था कि उन्होंने 1857 में हुकूमत के खिलाफ उठी बगावत की चिंगारी को हवा दी.

Advertisement