NDTV Khabar

Uttar pradesh by election 2019


'Uttar pradesh by election 2019' - 15 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • UP के उप चुनाव नतीजे BJP के लिए क्यों हैं खतरे की घंटी? आंकड़ों से समझें पूरी कहानी

    UP के उप चुनाव नतीजे BJP के लिए क्यों हैं खतरे की घंटी? आंकड़ों से समझें पूरी कहानी

    लोकसभा चुनाव में जीत से उत्साहित भाजपा को 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के परिणाम ने 2022 से पहले ही आईना दिखा दिया है.

  • UP By Election Results 2019: सपा को हुआ सबसे ज्यादा फायदा, देखें- सभी 11 सीटों के नतीजे

    UP By Election Results 2019: सपा को हुआ सबसे ज्यादा फायदा, देखें- सभी 11 सीटों के नतीजे

    उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (Uttar Pradesh By Election Results 2019) में सबसे बड़ा लाभ सपा को हुआ, जिसने एक एक सीट भाजपा और बसपा से छीनी जबकि रामपुर सीट पर कब्जा बरकरार रखा. कुल 11 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव के नतीजे गुरूवार शाम को आ गये.

  • Haryana Election Results 2019: RJD का गृहमंत्री पर तंज- कल धनतेरस है, पूरा देश धातु से बनी चीज़ें खरीदेगा और अमित शाह MLA खरीदेंगे!

    Haryana Election Results 2019: RJD का गृहमंत्री पर तंज- कल धनतेरस है, पूरा देश धातु से बनी चीज़ें खरीदेगा और अमित शाह MLA खरीदेंगे!

    इसी मसले को लेकर अब बिहार की विपक्षी दल की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने बीजेपी अध्यक्ष व गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) पर तंज कसा है. आरजेडी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर तंज कसते हुए कहा है कि धनतेरस पर पूरा देश जहां धातु से बनी चीजें खरीदेगा तो वहीं अमित शाह विधायक करेंगे.

  • यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: आधी से ज्यादा सीटों पर BJP को बढ़त, दो सीटों पर सपा आगे

    यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: आधी से ज्यादा सीटों पर BJP को बढ़त, दो सीटों पर सपा आगे

    निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, सुबह 8 बजे शुरू हुई मतगणना के प्रारंभिक रुझान में भाजपा ने छह सीटों इगलास, लखनऊ कैंट, मानिकपुर, गोविंदपुर, घोसी और बलहा सीटों पर बढ़त बना रखी है. इसके अलावा रामपुर और जैदपुर सीटों पर सपा के प्रत्याशी आगे चल रहे हैं.

  • Uttar Pradesh By Election 2019: राज्य की 11 विधानसभा सीटों के लिए जारी है मतदान

    Uttar Pradesh By Election 2019: राज्य की 11 विधानसभा सीटों के लिए जारी है मतदान

    उपचुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है. वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में इन 11 सीटों में से आठ पर भाजपा तथा एक-एक पर सपा, बसपा और भाजपा के सहयोगी अपना दल के विधायक जीते थे. घोसी को छोड़कर जिन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है, वे उन पर चुने गए विधायकों के पिछले लोकसभा चुनाव में विजय हासिल करने के बाद विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा देने की वजह से रिक्त हुई हैं.

  • ...जब बीवी के लिए प्रचार करते हुए रो पड़े SP नेता आजम खान, कहा- मुझे बकरी और मुर्गी चोर बताया जा रहा है

    ...जब बीवी के लिए प्रचार करते हुए रो पड़े SP नेता आजम खान, कहा- मुझे बकरी और मुर्गी चोर बताया जा रहा है

    लोकसभा सांसद और पूर्व मंत्री आजम मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय द्वारा भूमि अतिक्रमण के आरोपों का सामना कर रहे हैं. इस मामले को लेकर आजम खान 5 अक्टूबर को विशेष जांच दल (SIT) के समक्ष पेश हुए थे. तब SIT ने उनसे ढाई घंटे तक पूछताछ की थी. 

  • उत्तर प्रदेश सहित 17 राज्यों में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए BJP ने जारी की प्रत्याशियों की लिस्ट

    उत्तर प्रदेश सहित 17 राज्यों में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए BJP ने जारी की प्रत्याशियों की लिस्ट

    बीजेपी ने  17 राज्यों की 64 विधानसभा सीटों और एक केंद्र शासित प्रदेश में 21 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है. इसमें कुल 32 सीटों के प्रत्याशियों की घोषणा की गई है.

  • By Election Results 2019 Live Updates: भाजपा ने त्रिपुरा के बधरघाट उपचुनाव में माकपा को हराया

    By Election Results 2019 Live Updates: भाजपा ने त्रिपुरा के बधरघाट उपचुनाव में माकपा को हराया

    Bypoll Election Results 2019: छत्तीसगढ़, केरल, त्रिपुरा और उत्तर प्रदेश में चार विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव का मतदान 23 सितंबर को हुआ था.  अभी तक मिले नतीजों के मुताबिक केरल की पाला विधानसभा सीट लेफ्ट गठबंधन और उत्तर प्रदेश की हमीरपुर विधानसभा सीट का उपचुनाव बीजेपी ने जीत लिया है. 

  • सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव से पहले हुए गठबंधन का अंत हो गया है. हालांकि इसकी कोई अभी तक औपचारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन मायावती ने 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले दम पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर गठबंधन की स्‍थ‍िति साफ कर दी है. इस मसले पर अभी सपा की ओर से कोई बयान नहीं आया है. सपा-बसपा गठबंधन को पहले भी राजनीतिक विश्‍लेषक बेमेल समझौता बताते आ रहे थे. इस दौरान मायावती की चालाकी का भी जिक्र आया कि कैसे उन्‍होंने अखिलेश यादव के खाते में उन सीटों को दे दिया जिस पर उनकी जीत की कोई गुंजाइश नहीं बन पा रही थी. लखनऊ, गोरखपुर, बनारस, गाजियाबद जैसी लोकसभा सीटें इसके उदाहरण हैं. गठबंधन को लेकर सपा के संस्‍थापक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव खुश नहीं थे. अपनी नाराजगी उन्‍होंने साफ जाहिर कर दी थी. सपा से अलग होकर शिवपाल सिंह यादव ने अपनी पार्टी बनाई और अपने उम्‍मीदवार सभी सीटों पर उतारे. शिवपाल यादव ने भी इस गठबंधन का मजाक उड़ाया था. गेस्‍ट हाउस कांड का भी जिक्र आया लेकिन कहा गया कि दोनों पार्टियां अब इस हादसे से उबर चुकी हैं. मंच पर मायावती के साथ मुलायम और अखिलेश की कई तस्‍वीरें सामने आईं. हालांकि एक चुनावी भाषण में मायावती यह कहने से नहीं चूकीं कि सपा के कार्यकर्ताओं को बसपा के लोगों से काफी कुछ सीखने की जरूरत है.

  • मायावती ने तोड़ा सपा से गठबंधन? कहा- यादव वोट ट्रांसफर नहीं हुए, विधानसभा उप चुनाव अकेले लड़ेगी बीएसपी

    मायावती ने तोड़ा सपा से गठबंधन? कहा- यादव वोट ट्रांसफर नहीं हुए, विधानसभा उप चुनाव अकेले लड़ेगी बीएसपी

    SP BSP alliance: बीएसपी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने कहा है कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) में यादव वोट बीएसपी (BSP) के पक्ष में ट्रांसफर नहीं हुए हैं इसलिए बीएसपी अब उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर होने वाले विधानसभा उप चुनाव में अकेले लड़ेगी.

  • BSP की जगह दे दिया BJP को वोट तो शख्स ने काट दी अपनी अंगुली, बोले- बड़ी गलती कर दी थी...

    BSP की जगह दे दिया BJP को वोट तो शख्स ने काट दी अपनी अंगुली, बोले- बड़ी गलती कर दी थी...

    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बुलंदशहर (Bulandshahr) में मायवती (Mayawati) के एक समर्थक ने गुरुवार को वोट देने के बाद अपनी अंगुली काट ली. दरअसल, समर्थक ने वोटिंग के दौरान 'गलती' से बीजेपी (BJP) को वोट दे दिया था.

  • कैराना में जीत दर्ज करने वालीं तबस्सुम बेगम बोलीं- 2019 में साथ मिलकर बीजेपी को धूल चटाएंगे

    कैराना में जीत दर्ज करने वालीं तबस्सुम बेगम बोलीं- 2019 में साथ मिलकर बीजेपी को धूल चटाएंगे

    उत्तर प्रदेश के कैराना लोकसभा उपचुनाव के परिणाम पर सबकी नजरें थीं, मगर अब वहां सब स्पष्ट हो चुका है और सपा-बसपा समर्थित आरएलडी प्रत्याशी तबस्सुम बेगम ने जीत दर्ज कर ली है. तब्बसुम ने बीजेपी की मृगांका सिंह को हरा दिया है. जीत से कुछ समय पहले इंटरव्यू में आरएलडी की तबस्सुम बेगह ने कहा कि अहंकारी लोगों ने यह कहना शुरू कर दिया था कि हमारे पास कोई विकल्प नहीं है. मगर विकल्प तो ऊपर वाला निकालता है. ऊपर वाले ने विकल्प निकाल दिया है और हमलोग साथ मिलकर चलेंगे और 2019 में इन्हें धूल चटाएंगे. 

  • 2019 लोकसभा चुनाव से पहले BJP के लिए खतरे की घंटी, 10 बातें

    2019 लोकसभा चुनाव से पहले BJP के लिए खतरे की घंटी, 10 बातें

    बीजेपी को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले एक चौंका देने वाला झटका लगा क्योंकि लोकसभा की उन तीनों सीटों पर उसके उम्मीदवार हार गए जिनके लिए उपचुनाव हुआ था. इन तीन सीटों में उत्तर प्रदेश में उसका गढ़ रहा गोरखपुर और फूलपुर तथा बिहार में अररिया शामिल है. यूपी की दोनों लोकसभा सीट प्रदेश के सीएम योगी आदित्‍यनाथ और डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या की थी. बीजेपी के लिए यह चौंकाने वाला चुनाव परिणाम त्रिपुरा सहित पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में उसकी शानदार जीत के कुछ ही दिन बाद आया है. बीजेपी ने त्रिपुरा में वाम दल के किले को ढहा दिया था जहां वह पिछले 25 वर्ष सत्ता में था. बीजेपी ने अपने क्षेत्रीय सहयोगी दलों के साथ मिलकर नगालैंड और मेघालय में भी सरकार बना ली थी. वहीं बीजेपी के लिए यह हार 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए खतरे की घंटी है.

  • यूपी-बिहार में अगले लोकसभा चुनाव की तस्वीर दिखाने वाले उपचुनावों के परिणाम सुबह 8 बजे से

    यूपी-बिहार में अगले लोकसभा चुनाव की तस्वीर दिखाने वाले उपचुनावों के परिणाम सुबह 8 बजे से

    उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों, बिहार की एक लोकसभा सीट और दो विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव की मतगणना आज होगी. मतगणना पूरी होने के साथ ही चुनाव परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे. चुनाव परिणाम दोपहर से पहले ही आ जाने की उम्मीद है. यह परिणाम 2019 के लोकसभा चुनाव के परिदृश्य का संकेत देने वाले माने जा रहे हैं.

  • फूलपुर लोकसभा उपचुनाव: BJP को मिल रही है जबरदस्त टक्कर, जीत ही एकमात्र विकल्प

    फूलपुर लोकसभा उपचुनाव: BJP को मिल रही है जबरदस्त टक्कर, जीत ही एकमात्र विकल्प

    उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और फूलपुर सीट के लिए होने वाले लोकसभा उपचुनाव पर देश भर की नजर लगी हुई है. एक सीट सूबे के मुख्यमंत्री की है और और दूसरी उपमुख्यमंत्री की. इनमें से खासकर फूलपुर की सीट का टकराव कफी अहम माना जा रहा है. माना जा रहा है कि इसके नतीजे 2019 के राजनीतिक समीकरण तय करने के लिहाज से भी अहम होंगे. इसलिये फूलपुर में बीजेपी ने रैलियों की झड़ी लगा दी है. पहली बार हासिल ये सीट वो खोना नहीं चाहती. जबकि बीएसपी ने यहां उम्मीदवार न उतार कर और सपा को समर्थन देने का एलान कर उसकी चुनौती कड़ी कर दी है.