NDTV Khabar

Uttar pradesh stf News in Hindi


'Uttar pradesh stf' - 50 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • विकास दुबे एनकाउंटर मामले में SC में दाखिल 2 याचिका, कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग

    विकास दुबे एनकाउंटर मामले में SC में दाखिल 2 याचिका, कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग

    विकास दुबे (Vikas Dubey) एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दो याचिकाएं दाखिल की गई हैं. याचिकाओं में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग की गई है. एक याचिका वकील अनूप प्रकाश अवस्थी ने दाखिल की है.

  • विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले उसके पिता- मेरे बेटे ने किया था अक्षम्य पाप...

    विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले उसके पिता- मेरे बेटे ने किया था अक्षम्य पाप...

    न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए रामकुमार दुबे ने कहा, 'क्या उसने हमारा कहा माना, माना होता तो उसकी जिंदगी ऐसे खत्म नहीं होती. विकास ने कभी किसी भी तरह से हमारी मदद नहीं की. उसकी वजह से हमारी पैतृक संपत्ति नष्ट हो गई. उसने 8 पुलिसवालों को भी मारा, जो एक अक्षम्य पाप था. प्रशासन ने ठीक किया है. अगर वो ऐसा नहीं करते तो कल कोई और ऐसी हरकत करता.'

  • ग्राउंड जीरो रिपोर्ट : उज्जैन से जब STF निकली तो टाटा सफारी में बैठा था विकास दुबे, एक्सीडेंट हुआ TUV का!

    ग्राउंड जीरो रिपोर्ट : उज्जैन से जब STF निकली तो टाटा सफारी में बैठा था विकास दुबे, एक्सीडेंट हुआ TUV का!

    यूपी के मोस्टवांटेड और 8 पुलिसकर्मियों के हत्या के आरोपी विकास दुबे को कानपुर के पास पुलिस एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया,पुलिस का दावा है कि कार पलटने के बाद विकास ने भागने की कोशिश की लेकिन एनकाउंटर के तरीके को देखें तो खुद समझ आ जायेगा कि ये एनकाउंटर कितना नाटकीय था.  उज्जैन से जब विकास दुबे को यूपी एसटीएफ लेकर निकली तो उसके काफिले में 3 गाड़ियां थीं ,टाटा सफारी की पिछली सीट पर वो बैठा था ,उसके अगल बगल 2 पुलिसकर्मी बैठे थे ,काफिले की ये तस्वीरें 2 टोल नाकों पर कैद हुईं.

  • Vikas Dubey Encounter : इस तस्वीर में छिपा था पुलिस का आखिरी दांव जो नहीं समझ पाया विकास दुबे?

    Vikas Dubey Encounter : इस तस्वीर में छिपा था पुलिस का आखिरी दांव जो नहीं समझ पाया विकास दुबे?

    Vikas Dubey Encounter : बीती 3 जुलाई से लेकर 8 जुलाई तक 7 राज्यों की पुलिस, 100 टीमें, 5 लाख का इनाम और कई एसपी और डीएसपी को अकेले छकाने वाला कानपुर का गैगंस्टर विकास दुबे आखिरी 24 घंटों में मात गया है. फरारी से लेकर उज्जैन में पकड़े जाने तक लेकर उसकी ही रची स्क्रिप्ट में पुलिस इधर-उधर दौड़ती रही है और अब मध्य प्रदेश पुलिस की इस तस्वीर को देखिए इसमें आपको एक भी पुलिसकर्मी हथियार लिए नहीं नजर आ रहा है.  मतलब शुरू से ही शक किया जा रहा था कि विकास दुबे ने जानबूझकर उज्जैन के महाकाल मंदिर में जाकर सरेंडर किया है. दरअसल ऐसा लग रहा है कि आखिरी 24 घंटो में पुलिस भी विकास की रची स्क्रिप्ट पर काम करने लगी थी.  यानी विकास दुबे को इस बात का विश्वास दिलाना था कि जैसा वह चाह रहा है वैसा ही हो रहा है. नहीं तो ये विश्वास करना मुश्किर है कि जिस शख्स ने कुछ ही घंटों में 8 पुलिसकर्मियों को मार दिया है, उसे पकड़ने वाली पुलिस बिना हथियार लिए वहां पहुंच गई हो.  उसके गिरफ्तार होने के पहले के घटनाक्रम पर नजर डालें तो ये भी नाटकीय लग रहा है कि विकास दुबे उज्जैन पहुंचता है वहां वह 250 रुपये की रसीद कटवाता है और दर्शन करने के बाद खुद को 'विकास दुबे...कानपुर वाला' बताता है. माने उसको यहां तक  अपने सरेंडर वाली थ्योरी पर विश्वास था कि ऐसा करने से वह पुलिस के हाथों मरने से बच जाएगा.

  • कानपुर के गैगंस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर : ये 10 सवाल जिनका जवाब बहुतों को 'वास्तव' में ले डूबता

    कानपुर के गैगंस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर :  ये 10 सवाल जिनका जवाब बहुतों को 'वास्तव' में ले डूबता

    गैंगस्टर विकास दुबे( Vikas Dubey) को पुलिस ने कानपुर से 30 किलोमीटर दूर भौंती नाम की जगह पर मार गिराया है. पुलिस के मुताबिक उज्जैन से उसे सड़क के रास्ते लाया जा रहा था तभी काफिल में शामिल एक वाहन पलट गया इसका फायदा उठाकर उसने भागने की कोशिश जिसमें पुलिस ने उसे मार गिराया है. लेकिन पुलिस की इस थ्योरी पर सवाल उठ रहे हैं. जब विकास दुबे ने बड़े आराम से खुद को सरेंडर किया और उसे पता था कि अब उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा यानी एनकाउंटर का खतरा टल चुका था तो भागने की कोशिश क्यों करेगा. गौरतलब है कि विकास दुबे के मामले में पुलिस की भूमिका शुरू से ही संदिग्ध रही है और उसके एक गुर्गे ने कैमरे के सामने बोला है कि उसे पकड़ने के लिए पुलिस आ रही है इसकी सूचना उसे थाने से ही दी गई है. दूसरी ओर कुछ मीडिया रिपोर्टस की मानें तो उज्जैन में जब उससे पूछताछ की जा रही थी तो वहां भी उसने कबूला था कि उसकी मदद में कई पुलिस चौकियां शामिल थीं. कुल मिलाकर विकास दुबे के खत्म होते ही ये सवाल भी हमेशा के लिए दफन हो गए.

  • Vikas Dubey Encounter: जिसे एक सप्ताह तक नहीं ढूंढ़ पाई पुलिस, वो गिरफ्तारी के 24 घंटे में ही मारा गया, 5 प्वांइट्स में जानें पूरी कहानी

    Vikas Dubey Encounter: जिसे एक सप्ताह तक नहीं ढूंढ़ पाई पुलिस, वो गिरफ्तारी के 24 घंटे में ही मारा गया, 5 प्वांइट्स में जानें पूरी कहानी

    Vikas Dubey Encounter: में कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं. विकास दुबे को गुरुवार सुबह उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था. उत्तर प्रदेश पुलिस की STF उसे मध्य प्रदेश से उत्तर ला रही थी. विकास दुबे की मौत के साथ कानपुर में अपराध का अध्याय भी खत्म हो गया. 

  • मारा गया विकास दुबे : 'कानपुर के दरिंदे' की गिरफ्तारी के बाद अब एनकाउंटर पर उठ रहे हैं ये अहम सवाल

    मारा गया विकास दुबे : 'कानपुर के दरिंदे' की गिरफ्तारी के बाद अब एनकाउंटर पर उठ रहे हैं ये अहम सवाल

    विकास दुबे के केस में यूपी पुलिस ने एक के बाद एक एनकाउंटर किए हैं और गुरुवार को हुई उसकी अचानक गिरफ्तारी पर पहले ही सवाल उठ रहे थे. अब उसके एनकाउंटर ने अलग से कई सवाल पैदा कर दिए हैं. ज़ाहिर है इसपर भी खूब हलचल मचेगी.

  • यूपी : पुलिस एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे का करीबी अमर दुबे, पुलिसकर्मियों की हत्या में था शामिल

    यूपी :  पुलिस एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे का करीबी अमर दुबे, पुलिसकर्मियों की हत्या में था शामिल

    Kanpur Encounter Case: कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey)  के एक साथी को बुधवार सुबह पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है. विकास दुबे गैंग के शूटर अमर दुबे को उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने लखनऊ से करीब 150 किलोमीटर दूर हमीरपुर जिले में एनकाउंटर में ढेर कर दिया.  

  • कानपुर पुलिस हत्‍याकांड: विकास दुबे से पूछताछ का पुराना VIDEO सामने आया, अपने खिलाफ केसों की दे रहा जानकारी

    कानपुर पुलिस हत्‍याकांड: विकास दुबे से पूछताछ का पुराना  VIDEO सामने आया, अपने खिलाफ केसों की दे रहा जानकारी

    वीडियो में विकास को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उस पर दूसरा मुकदमा सरकारी काम में बाधा डालने का है. उसने कहा कि खाते निरीक्षक होते हैं.प्रधानजी ने डीएम को शिकायत की थी. पत्र दिया था. उसको धमकाया था. यह पूछने पर कि क्‍या उसने मारपीट की थी, विकास ने पूछताछ में इससे इनकार किया.

  • कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या : JCB, ताबड़तोड़ फायरिंग, जब इतनी बड़ी थी साजिश तो क्या कर रही थी LIU

    कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या : JCB, ताबड़तोड़ फायरिंग, जब इतनी बड़ी थी साजिश तो क्या कर रही थी LIU

    कानपुर में विकास दुबे नाम के एक बदमाश को पकड़ने गई यूपी पुलिस टीम के 8 लोगों (डीएसपी स्तर के एक अधिकारी समेत, 3 सब इंस्पेक्टर, 4 सिपाही) ने जान गंवा दी है. दरअसल कानपुर के बिकरु गांव में पुलिस विकास दुबे को पकड़ने गई थी. इस बदमाश पर का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है. इसके खिलाफ हाल ही में एक मामला दर्ज कराया गया था. इसी मामले में पुलिस इसको गिरफ्तार करने गई थी.

  • ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर पैसा ऐंठने वाले गिरोह के दो लोगों को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

    ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर पैसा ऐंठने वाले गिरोह के दो लोगों को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

    प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के नाम गौरीकान्त दीक्षित और कमलेश कुमार सिंह हैं. उन्होंने बताया कि गौरीकान्त दीक्षित ने पूछताछ में बताया कि वह और गिरोह का सरगना पीयूष अग्रवाल गाजियाबाद में एक ही सोसायटी में रहते है और उनके पारिवारिक सम्पर्क हैं.

  • यूपी में इन 6 तरीकों से बनते हैं फर्जी टीचर, कुछ तो अब तक पा चुके हैं 40 लाख रुपये सैलरी

    यूपी में इन 6 तरीकों से बनते हैं फर्जी टीचर, कुछ तो अब तक पा चुके हैं 40 लाख रुपये सैलरी

    उत्तर प्रदेश में 4 हजार फर्जी अध्यापकों की नियुक्ति का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. फर्जी दस्तावेज लगाकर कई लोग सालों से सरकारी अध्यापक बने बैठे हैं लेकिन सरकार को आज तक खबर नहीं है. जाहिर ये भ्रष्टाचार की करतूत सामने बिना अधिकारियों की मिली भगत से नहीं हुई होगी. अंदेशा है कि इनकी तादाद इससे कहीं ज़्यादा है. कहा तो ये भी जा रहा है कि प्राइमरी शिक्षा पर उत्तर प्रदेश सरकार के 65 हज़ार करोड़ के बजट का क़रीब 10 से 15 हज़ार करोड़ ऐसे ही फ़र्ज़ी टीचर्स पर खर्च हो रहा है.

  • Exclusive : रिश्वत, ब्लैकमेलिंग और रेप, उत्तर प्रदेश में 4000 फर्जी अध्यापकों की नियुक्ति की 'कलंक कथा'

    Exclusive : रिश्वत, ब्लैकमेलिंग और रेप, उत्तर प्रदेश में 4000 फर्जी अध्यापकों की नियुक्ति की 'कलंक कथा'

    क्या ये मुमकिन है कि एक वक़्त में एक ही नाम का टीचर तीन अलग-अलग ज़िलों में एक साथ पढ़ा रहा हो और तीनों के पिता के नाम, आधार कार्ड और पैन कार्ड भी एक ही हों. उत्तर प्रदेश के सरकारी प्राइमरी स्कूलों में ये ख़ूब हो रहा है. इनमें एक टीचर असली है और बाक़ी फ़र्ज़ी. जब एक के बाद एक ऐसे कई मामले सामने आए तो स्पेशल टास्क फोर्स को जांच की ज़िम्मेदारी दी गई. इस जांच में अब तक 4000 से ज़्यादा ऐसे फ़र्ज़ी टीचरों की पहचान कर ली गई है. अंदेशा है कि इनकी तादाद इससे कहीं ज़्यादा है. कहा तो ये भी जा रहा है कि प्राइमरी शिक्षा पर उत्तर प्रदेश सरकार के 65 हज़ार करोड़ के बजट का क़रीब 10 से 15 हज़ार करोड़ ऐसे ही फ़र्ज़ी टीचर्स पर खर्च हो रहा है.

  • फर्जी सिपाही बनकर DM ऑफिस में करता था 'ड्यूटी', लोगों से ऐंठता था पैसे, पुलिस ने फिर ऐसे दबोचा

    फर्जी सिपाही बनकर DM ऑफिस में करता था 'ड्यूटी', लोगों से ऐंठता था पैसे, पुलिस ने फिर ऐसे दबोचा

    एसटीएफ के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि ऐसी सूचना मिली थी कि खुद को सिपाही बता रहा एक संदिग्ध व्यक्ति वर्दी पहनकर गोरखपुर में सक्रिय है. जांच-पड़ताल में पता चला कि वह व्यक्ति गोरखपुर की खजनी तहसील के उपजिलाधिकारी के यहां सिपाही बनकर ड्यूटी कर रहा है. मौके पर पहुंची एसटीएफ की टीम ने सोमवार को उसे गिरफ्तार कर लिया.

  • यूपी: नोएडा STF को मिली बड़ी सफलता, 50 हजार रुपए का इनामी बदमाश गिरफ्तार

    यूपी: नोएडा STF को मिली बड़ी सफलता, 50 हजार रुपए का इनामी बदमाश गिरफ्तार

    यूपी एसटीएफ की नोएडा यूनिट को बीते 30 अगस्त 2019 को महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई. एसटीएफ टीम की थाना दादरी क्षेत्र, गौतमबुद्धनगर में बावरिया अपराधियों से मुठभेड़ हो गई जिसमें 50,000 रुपये के इनामिया अपराधी राखी, महेश, राहुल पुत्र धर्म सिंह, भाल सिंह निवासी एकरन आज़ादनगर थाना चिकसाना, भरतपुर सहित कुल 2 को गिरफ़्तार कर लिया.

  • उन्नाव: सड़क हादसे का शिकार हुई STF अधिकारियों की कार, ड्राईवर की मौत, 5 घायल

    उन्नाव: सड़क हादसे का शिकार हुई STF अधिकारियों की कार, ड्राईवर की मौत, 5 घायल

    लखनऊ से कानपुर जा रही स्पेशल टास्क फोर्स के अधिकारियों की गाड़ी एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गई. गाड़ी में सवार सभी 5 अधिकारी बुरी तरह से घायल हो गए जबकि ड्राईवर की मौके पर ही मौत हो गई.

  • क्रेडिट कार्ड फ्रॉड करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, एसटीएफ ने चार को दबोचा

    क्रेडिट कार्ड फ्रॉड करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, एसटीएफ ने चार को दबोचा

    गिरफ़्तार किए गए इन लोगों के पास से कई बैंकों के क़रीब 50,000 ग्राहकों का डाटा बरामद हुआ है.

  • एसटीएफ, सेल्स टैक्स विभाग ने कई शहरों में छापेमारी की, 13 करोड़ रुपए के धोखाधड़ी का पर्दाफाश 

    एसटीएफ, सेल्स टैक्स विभाग ने कई शहरों में छापेमारी की, 13 करोड़ रुपए के धोखाधड़ी का पर्दाफाश 

    एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया के वे सर्कुलर ट्रेडिंग में शामिल थीं और उनके बीच 72.7 करोड़ रुपए मूल्य का लेन-देन दिखाया गया जिस पर उन्होंने 18 प्रतिशत जीएसटी की दर से 13.09 करोड़ रुपए इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा किया था. 

123»

Advertisement

Uttar pradesh stf वीडियो

Uttar pradesh stf से जुड़े अन्य वीडियो »

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com