NDTV Khabar

Vijay vashishtha


'Vijay vashishtha' - 110 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • गिप्पी : कहानी बच्चों की, संदेश बड़ा

    गिप्पी : कहानी बच्चों की, संदेश बड़ा

    यह फ़िल्म देखकर आप शायद अपने बचपन में लौट जाएं। फ़िल्म और उसके किरदारों की सादगी आपको हंसाएगी भी और यादों के सफ़र पर भी ले जाएगी...

  • एवरेज है हॉरर फिल्म 'राज-3'...

    एवरेज है हॉरर फिल्म 'राज-3'...

    बेशक, बिपाशा ने अच्छी एक्टिंग की, और म्यूज़िक भी ठीक है, चलताऊ फॉर्मूले से नहीं बच सकी 'राज-3', और इस एवरेज फिल्म के लिए हमारी रेटिंग है - 2.5 स्टार...

  • 'जोकर' देखने जाएं कि नहीं...

    'जोकर' देखने जाएं कि नहीं...

    'जोकर' ऐसे साइंटिस्ट पर है, जो दूसरे ग्रह के प्राणियों से संपर्क करने में लगा है। यह साइंटिस्ट बीमार पिता से मिलने पगलापुर गांव लौटता है, जो देश के नक्शे पर नहीं है।

  • देखने लायक है 'शीरीं फरहाद की तो निकल पड़ी'

    देखने लायक है 'शीरीं फरहाद की तो निकल पड़ी'

    45 साल का फरहाद एक अंडर गारमेंट्स दुकान पर सेल्समैन है, जिसकी शादी नहीं हुई है। उसकी जिंदगी में 40 साल की शीरीं आती है और फिर शुरू होती है एक रोमांटिक, इमोशनल और कॉमेडी से भरपूर कहानी...

  • अगले-पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ डालेगी 'एक था टाइगर'...

    अगले-पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ डालेगी 'एक था टाइगर'...

    माना जा रहा है कि 'एक था टाइगर' न सिर्फ 150 करोड़ का कलेक्शन आसानी से कर लेगी, बल्कि वह तो 200 करोड़ का आंकड़ा पार कर 'थ्री इडियट्स' की बराबरी भी कर सकती है...

  • पैसा वसूल है 'एक था टाइगर'

    पैसा वसूल है 'एक था टाइगर'

    जासूसों की दुनिया दिमाग से चलती है, लेकिन जब जासूस सलमान खान हों, तो यह दिल से चलने लगती है। जासूसी पर यह आदर्श फिल्म भले न हो, लेकिन कोरी गप्प नहीं लगती।

  • अर्बन यूथ के लिए है सेकंड मैरिज डॉट कॉम

    अर्बन यूथ के लिए है सेकंड मैरिज डॉट कॉम

    ज्वलंत सवाल यह है कि अर्बन यूथ और मल्टीप्लेक्स ऑडियन्स को ध्यान में रखकर बनाई गई इस फिल्म को आम भारतीय स्वीकार कर पाएगा... इस फिल्म के लिए हमारी रेटिंग है 2.5 स्टार...

  • बेहतर है गैंग्स ऑफ वासेपुर-2

    बेहतर है गैंग्स ऑफ वासेपुर-2

    म्यूज़िक में कतई दम नहीं, लेकिन गैंग्स ऑफ वासेपुर पार्ट 2 बेहतर फिल्म है... फिर भी इसे 3 स्टार ही मिलेंगे, क्योंकि फिल्म के लंबे होने की भी कोई लिमिट होती है।

  • 'मेरे दोस्त पिक्चर अभी बाकी है'... में नहीं है वो बात!

    'मेरे दोस्त पिक्चर अभी बाकी है'... में नहीं है वो बात!

    सालों पहले बन चुकी एक और फिल्म भी शुक्रवार को रिलीज़ हुई है… नाम है… 'मेरे दोस्त पिक्चर अभी बाकी है'...।

  • सबको गदगद कर देगा यह 'गट्टू'...

    सबको गदगद कर देगा यह 'गट्टू'...

    यह एक ऐसी फिल्म है, जिसे बच्चे के साथ बड़े भी एन्जॉय करेंगे। क्लाइमैक्स देखकर तो निश्चित रूप से आपका दिल भर आएगा।

  • बेसिर-पैर की फिल्म है 'चलो ड्राइवर'

    बेसिर-पैर की फिल्म है 'चलो ड्राइवर'

    फिल्म के एक्टर, डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, स्क्रीनप्ले राइटर, स्टोरी राइटर, डायलॉग राइटर, यहां तक कि गीतकार भी विक्रांत महाजन हैं। इनके अलावा फिल्म में 'रागिनी एमएमएस' की हीरोइन काइनाज मोतीवाला भी हैं।

  • बहुत धीरे-धीरे सुरूर देती है 'कॉकटेल'...

    बहुत धीरे-धीरे सुरूर देती है 'कॉकटेल'...

    प्रेम त्रिकोण अपने साथ उदासी लेकर आता है, लेकिन काश, इसके साथ बोरियत मुफ्त न मिलती... फिल्म के लिए हमारी रेटिंग है - 2.5 स्टार...

  • 'बोल बच्चन' में अभिषेक संग लुभा रहे हैं अजय देवगन

    'बोल बच्चन' में अभिषेक संग लुभा रहे हैं अजय देवगन

    शुक्रवार को अजय देवगन और अभिषेक बच्चन को लेकर बनी फिल्म बोल बच्चन रिलीज़ हो गई। एक नज़र इस कॉमेडी फिल्म के रिव्यू पर...

  • 'सुपरमैन ऑफ मालेगांव' : देखने लायक है गांववालों का जज़्बा...

    'सुपरमैन ऑफ मालेगांव' : देखने लायक है गांववालों का जज़्बा...

    दिलचस्प है कि जहां ओरिजनल फिल्म 'मालेगांव का सुपरमैन' सिर्फ एक लाख रुपये में बनी थी, वहीं उसकी मेकिंग पर बनी यह डॉक्यूमेंट्री 24 लाख रुपये में बनी है...

  • निराश किया 'मैक्सिमम' ने...

    निराश किया 'मैक्सिमम' ने...

    नसीरुद्दीन शाह व सोनू सूद अभिनीत 'मैक्सिमम' से उम्मीदें भी मैक्सिमम थीं, क्योंकि एनकाउंटर के विषय पर ही कबीर कौशिक ने 'सहर' जैसी बेहतरीन फिल्म बनाई थी...

  • बच्चों से ज्यादा बड़ों को पसंद आएगी 'द अमेज़िन्ग स्पाइडरमैन'

    बच्चों से ज्यादा बड़ों को पसंद आएगी 'द अमेज़िन्ग स्पाइडरमैन'

    हॉलीवुड की चर्चित फिल्म शृंखला 'स्पाइडरमैन' के तीसरे भाग के पांच साल बाद उसके प्रीक्वेल के रूप में रिलीज़ हुई इस फिल्म में पीटर के जन्म से हाईस्कूल तक की उसकी जीवनगाथा दर्शाई है...

  • तेरी मेरी कहानी : अच्छी एक्टिंग, स्क्रिप्ट बेकार...

    तेरी मेरी कहानी : अच्छी एक्टिंग, स्क्रिप्ट बेकार...

    समझ में नही आता कि 'फना' और 'हम तुम' जैसी फिल्में बना चुके राइटर-डायरेक्टर कुणाल कोहली इस फिल्म में कहना क्या चाहते हैं...

  • गैंग्स ऑफ वासेपुर : तेज़ कहानी, दमदार परफॉर्मेन्स...

    गैंग्स ऑफ वासेपुर : तेज़ कहानी, दमदार परफॉर्मेन्स...

    झारखंड में सेट 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' आम आदमी से ज़्यादा 'सेलेक्ट ऑडियन्स' के लिए बनी दिखती है, और इसके लिए हमारी रेटिंग है 3 स्टार...

Advertisement