NDTV Khabar

Wef


'Wef' - 38 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अरबपति जॉर्ज सोरोस ने Davos में PM मोदी पर कश्मीर और CAA को लेकर साधा निशाना, कहा- लाखों मुसलमानों को दी जा रही है नागरिकता छीनने की धमकी

    अरबपति जॉर्ज सोरोस ने Davos में PM मोदी पर कश्मीर और CAA को लेकर  साधा निशाना, कहा- लाखों मुसलमानों को दी जा रही है नागरिकता छीनने की धमकी

    वहीं, मशहूर मैगजीन 'द इकोनॉमिस्ट' ने अपने नए कवर पेज के साथ नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) को लेकर भारत में हो रहे विरोध प्रदर्शनों पर मोदी सरकार पर हमला बोला है. कवर पेज पर कंटीली तारों के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) का चुनाव चिन्ह 'कमल का फूल' नजर आ रहा है. इसके ऊपर लिखा है, 'असहिष्णु भारत. कैसे मोदी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को जोखिम में डाल रहे हैं.' 'द इकोनॉमिस्ट' ने गुरुवार को कवर पेज ट्वीट करते हुए लिखा, 'कैसे भारत के प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को खतरे में डाल रहे हैं.'

  • दावोस में बोले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप- भारत और चीन ने उठाया 'विकासशील देश' होने का पूरा फायदा

    दावोस में बोले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप- भारत और चीन ने उठाया 'विकासशील देश' होने का पूरा फायदा

    डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन जानता है कि मेरा उनसे (चीन) काफी समय से विवाद चल रहा है क्योंकि हमारे देश के साथ ठीक व्यवहार नहीं किया गया. चीन को विकासशील राष्ट्र के रूप में देखा जाता है, भारत को विकासशील राष्ट्र के रूप में देखा जाता है लेकिन हमें विकासशील राष्ट्र के रूप में नहीं देखा जाता है.'

  • दावोस में CAA पर बोले सद्गुरु जग्गी वासुदेव- कोई भी वहां निवेश नहीं करेगा, जहां सड़कों पर बसें जल रही हों

    दावोस में CAA पर बोले सद्गुरु जग्गी वासुदेव- कोई भी वहां निवेश नहीं करेगा, जहां सड़कों पर बसें जल रही हों

    मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamal Nath), कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) समेत कुछ दिग्गज कारोबारी, फिल्मी हस्तियां और ईशा फाउंडेशन के अध्यक्ष और आध्यात्मिक गुरु सद्गुरु जग्गी वासुदेव (Sadhguru) भी इस कार्यक्रम का हिस्सा हैं. सद्गुरु ने NDTV के साथ खास बातचीत में नागरिकता कानून (CAA) को लेकर भारत में हो रहे विरोध पर कहा, 'कोई भी उस जगह पर निवेश नहीं करेगा, जहां की सड़कों पर बसें जल रही हों.'

  • अमेरिका-चीन के बीच व्यापार समझौते के दूसरे चरण पर बातचीत जल्द शुरू होगी: डोनाल्ड ट्रंप

    अमेरिका-चीन के बीच व्यापार समझौते के दूसरे चरण पर बातचीत जल्द शुरू होगी: डोनाल्ड ट्रंप

    ट्रंप ने कहा कि अमेरिकियों का सपना वापस आ गया है और यह पूर्व के मुकाबले कहीं बेहतर है. राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने दो साल पहले दावोस सम्मेलन को संबोधित किया था, उस समय से लेकर अब तक अमेरिकी नागरिकों ने वापसी की है. यह उनकी भविष्यवाणी के अनुरूप है. उन्होंने कहा, उनके सत्ता में आने के बाद अमेरिका में 1.1 करोड़ रोजगार सृजित हुए, उनके कार्यकाल में औसत बेरोजगारी दर इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति के कार्यकाल के मुकाबले सबसे कम रही है. 

  • दावोस: जहां होती है वर्ल्‍ड इकनॉमिक फोरम की हाई-प्रोफइाल बैठक, वहां कर चुके हैं शाहरुख-काजोल रोमांस

    दावोस: जहां होती है वर्ल्‍ड इकनॉमिक फोरम की हाई-प्रोफइाल बैठक, वहां कर चुके हैं शाहरुख-काजोल रोमांस

    स्विट्ज़रलैंड की ठंडी वादियों में ही 'दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे' से लेकर 'जब तक है जान' जैसी रोमांटिक फिल्मों का शूट हुआ.

  • वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की सालाना बैठक को लेकर किले में तब्दील हुआ रिसॉर्ट शहर दावोस

    वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की सालाना बैठक को लेकर किले में तब्दील हुआ रिसॉर्ट शहर दावोस

    विश्व आर्थिक मंच की 50वीं सालाना बैठक दावोस में सोमवार से शुरू होने वाली है. इसमें वैश्विक कारोबारियों, उद्यमियों और राजनेताओं के साथ ही भारत से भी 100 से अधिक कारोबारी व राजनेता आर्थिक महत्व तथा भू-राजनीतिक मामलों पर चर्चा में शामिल होंगे.

  • विश्व आर्थिक मंच की रिपोर्टः 2025 तक 52 प्रतिशत नौकरियों पर होगा मशीनों का कब्जा

    विश्व आर्थिक मंच की रिपोर्टः 2025 तक 52 प्रतिशत नौकरियों पर होगा मशीनों का कब्जा

    मशीनीकरण की रफ्तार देखते हुए एक आंकलन के मुताबिक वर्ष 2025 तक कार्यस्थलों के आधे से अधिक कार्य मशीनों द्वारा किये जाने लगेंगे. हालांकि एक तरफ नौकरियां जाएंगी तो दूसरी तरफ नौकरियां पैदा भी होंगी.

  • चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

    चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

    युवा श्रमबल, अंग्रेजी बोलने में सक्षम बड़ी आबादी तथा इंटरनेट उपयोक्ताओं की दूसरी सर्वाधिक संख्या के दम पर भारत डिजिटन प्रौद्योगिक आधारित चौथी वैश्विक औद्योगिक क्रांति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है. विश्व आर्थिक मंच के अध्यक्ष बॉर्ज ब्रेंडे ने यह बात कही. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए देश को आधारभूत संरचना एवं बिजली की उपलब्धता में सुधार तथा मौद्रिक एवं वित्तीय नीतियों में स्थिरता की जरूरत होगी.

  • चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

    चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

    युवा श्रमबल, अंग्रेजी बोलने में सक्षम बड़ी आबादी तथा इंटरनेट उपयोक्ताओं की दूसरी सर्वाधिक संख्या के दम पर भारत डिजिटन प्रौद्योगिक आधारित चौथी वैश्विक औद्योगिक क्रांति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है. विश्व आर्थिक मंच के अध्यक्ष बॉर्ज ब्रेंडे ने यह बात कही. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए देश को आधारभूत संरचना एवं बिजली की उपलब्धता में सुधार तथा मौद्रिक एवं वित्तीय नीतियों में स्थिरता की जरूरत होगी.

  • दावोस में रघुराम राजन ने की प्रणय रॉय से बात, बताया भारत के लिए कैसा होगा साल 2018

    दावोस में रघुराम राजन ने की प्रणय रॉय से बात, बताया भारत के लिए कैसा होगा साल 2018

    स्विटजरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के इतर भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत की. आरबीआई के पूर्व गवर्नर ने एनडीटीवी के डॉ. प्रणय रॉय के साथ बातचीत के दौरान जीएसटी और भारत की अर्थयव्यवस्था पर इसके प्रभाव से लेकर डिजिटल पेमेंट जैसे कई मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखी. 

  • दावोस में विश्व आर्थिक मंच से डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- अमेरिका फर्स्ट का मतलब, सिर्फ अमेरिका नहीं

    दावोस में विश्व आर्थिक मंच से डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- अमेरिका फर्स्ट का मतलब, सिर्फ अमेरिका नहीं

    स्विटजरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के 48वें सम्मेलन के आखिरी दिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंच को संबोधित किया. शुक्रवार को वैश्विक बिजनेस लीडर्स से मुलाकात से पहले  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका की दोस्ती और साझेदारी की पेशकश की. साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका फर्स्ट का मतलब ये नहीं है कि अमेरिका अकेला है. 

  • दावोस में एनडीटीवी के लिए रुके डोनाल्ड ट्रंप, सवाल सुना मगर जवाब नहीं दिया

    दावोस में एनडीटीवी के लिए रुके डोनाल्ड ट्रंप, सवाल सुना मगर जवाब नहीं दिया

    स्विटजरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के 48वें सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन पर एनडीटीवी के सवाल का जवाब नहीं दिया. शुक्रवार को सम्मेलन के समापन समारोह में भाषण देने से पहले ट्रंप मीडिया से बाचतीच कर रहे थे, उसी दौरान वो एनडीटीवी के लिए भी रुके, सवाल सुना, मगर जवाब नहीं दिया. दरअसल, एनडीटीवी का सवाल डोनाल्ड ट्रंप से जलवायु परिवर्तन पर था, जिसे मंगलवार के विश्व आर्थिक मंच के उद्घाटन सत्र के दौरान पीएम मोदी ने दुनिया के लिए खतरा बताया था.

  • दावोस में पीएम मोदी के भाषण का चीन भी हुआ मुरीद, कहा- संरक्षणवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे

    दावोस में पीएम मोदी के भाषण का चीन भी हुआ मुरीद, कहा- संरक्षणवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे

    दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के मंच पर पीएम मोदी के भाषण की चारों ओर चर्चा हो रही है. पीएम नरेंद्र मोदी ने दावोस में ऐसा भाषण दिया कि पड़ोसी देश चीन भी उनके भाषण का मुरीद हो गया है. चीन ने संरक्षणवाद के खिलाफ पीएम मोदी के भाषण का स्वागत किया है. चीन ने कहा कि हम दो देश ऐसे प्रयासों के खिलाफ साथ मिलकर काम कर सकते हैं. बीजिंग ने यह भी कहा कि दोनों देश वैश्वीकरण को बढ़ावा देने और विश्व अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए समान हित में हिस्सा लेते हैं. इसके साथ ही चीन ने वैश्वीकरण की प्रक्रिया को मजबूत करने के लिए भारत के साथ सहयोग बढ़ाने पर जोर दिया है.

  • WEF 2018 में पीएम मोदी के भाषण पर अमित शाह और सुषमा स्वराज ने कही यह बड़ी बात

    WEF 2018 में पीएम मोदी के भाषण पर अमित शाह और सुषमा स्वराज ने कही यह बड़ी बात

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्विटजरलैंड के दावोस में विश्व आर्थिक मंच पर दिये गये भाषण को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने हर भारतीय के लिए गौरव करार दिया. अमित शाह ने कहा कि देश पूरी दुनिया के लिये अवसर प्रदान कर रहा है. वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन की पुरजोर प्रशंसा करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कहा कि दावोस में भारतीय संस्कृति और मूल्यों की प्रासंगिकता समझाकर प्रधानमंत्री ने भारत का मस्तक ऊंचा किया है. 

  • दावोस में निवेशकों को पीएम मोदी की खास अपील, बोले- अगर समृद्धि के साथ शांति चाहते हैं तो भारत आएं

    दावोस में निवेशकों को पीएम मोदी की खास अपील, बोले- अगर समृद्धि के साथ शांति चाहते हैं तो भारत आएं

    स्विटजरलैंड के दावोस में चल रहे वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीएम मोदी ने 20 साल बाद भारत का प्रतिनिधित्व कर भारत की बढ़ती वैश्विक धाक का परिचय करा दिया. विश्व आर्थिक मंच पर प्रधानमंत्री का सभी मुद्दों पर बेबाकी से बोलना ये बताता है कि अब वैश्विक पटल पर भारत की छवि बेहतर होने लगी है और दुनिया के सामने मजबूत स्तंभ के रूप में खड़ा हो रहा है. वैसे तो पीएम मोदी ने अपने भाषण आंतकवाद से लेकर जलवायु परिवर्तन सरीखे कई बातों का जिक्र किया, मगर भाषण खत्म करते-करते उन्होंने इशारों-इशारों में विदेशी निवेशकों को भारत में आने का निमंत्रण भी दे दिया. 

  • दुनिया के सामने हैं ये तीन बड़े खतरे : दावोस में पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें

    दुनिया के सामने हैं ये तीन बड़े खतरे : दावोस में पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें

    स्विटजरलैंड में चल रहे वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के उद्घाटन समारोह में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण कई मामलों में अहम रहा. पीएम मोदी ने आतंकवाद से लेकर जलवायु परिवर्तन जैसे ज्वलंतशील मुद्दों को दुनिया के सामने रखा. पीएम मोदी ने दुनिया के लिए तीन खतरें गिनाए. उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन, आंतकवाद और देशों का आत्मकेंद्रीत होना दुनिया के लिए तीन खतरे हैं, जिससे निपटना हमारी चुनौती है.

  • वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीएम मोदी बोले, आज डाटा सबसे बड़ी संपदा है, 5 बातें

    वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीएम मोदी बोले, आज डाटा सबसे बड़ी संपदा है, 5 बातें

    स्विट्जरलैंड के दावोस में चल रहे वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के उद्घाटन समारोह में पीएम मोदी ने कहा कि 1997 से लेकर अब तक बहुत बदलाव हुआ है. पिछली बार 1997 में किसी भारतीय प्रधानमंत्री ने वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में शिरकत की थी. उसके बाद यह पहला मौका है जब कोई भारतीय प्रधानमंत्री इस सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि आज डाटा सबसे बड़ी संपदा है.

  • दावोस : वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम भारत के लिए क्यों है महत्वपूर्ण, 8 बड़ी बातें

    दावोस : वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम भारत के लिए क्यों है महत्वपूर्ण, 8 बड़ी बातें

    दावोस में आयोजित वर्ल्ड इकोनमिक फोरम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करीब 3.15 बजे उद्घाटन भाषण देंगे. इसके बाद से चार दिन तक चलने वाला दावोस सम्मेलन शुरू हो जाएगा. इस अंतरराष्ट्रीय सम्मलेन की खास बात यह है कि इस बार यहां पर भारत का डंका बज रहा है. योग से लेकर भारतीय खाने तक की धूम मची है. पीएम मोदी के साथ कार्यक्रम में 6 केंद्रीय मंंत्रियों, 2 मुख्यमंत्री और कई बिजनेस लीडर गए हैं. चार दिन तक चलने वाले इस फोरम में पीएम मोदी के अलावा भारत के मंत्री,कई बिजनेस लीडर और शाहरुख खान भी अलग-अलग विषयों पर अपनी बात रखेंगे.

Advertisement