NDTV Khabar

पांच की बात: एनडीटीवी पर मिड-डे मील की हकीकत दिखाने वाले पत्रकार पवन जयसवाल

 Share

उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर में कलेक्टरेट ऑफिस में मंगलवार को 100 से ज़्यादा पत्रकारों ने विरोध प्रदर्शन किया, क्योंकि सोमवार को राज्य सरकार ने उस पत्रकार के खिलाफ FIR दर्ज की थी, जिसने एक सरकारी स्कूल में मिड-डे मील के तौर पर नमक से रोटी खाते बच्चों का वीडियो शूट किया था. एक वीडियो में बयान जारी कर पत्रकार पवन जायसवाल ने अपने खिलाफ दर्ज किए गए केस को 'पत्रकारिता पर हमला' करार दिया था. पवन जायसवाल ने कहा, "मेरे खिलाफ केस दर्ज किया गया है, क्योंकि सरकारी अधिकारियों से सवाल पूछे गए थे... यह पत्रकारिता पर हमला है... ख़बर की असलियत की पुष्टि करने के लिए सभी का स्वागत है..."



Advertisement