NDTV Khabar

1984 हिंसा पर पित्रोदा का बयान कांग्रेस को पड़ सकता है भारी

 Share

दिल्ली, पंजाब और हरियाणा की 31 लोक सभा सीटों के चुनाव से पहले बीजेपी ने राजीव गांधी के नाम पर जो जाल बिछाया था, कांग्रेस उसमें फंसती नजर आ रही है. पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रतापगढ़ में राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर एक कह कर इसकी शुरुआत की थी और बात धीरे-धीरे वहीं पहुंच गई जहां बीजेपी उसे पहुंचाना चाहती थी यानी चौरासी में सिखों के कत्ले आम तक. रही-सही कसर इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के सैम पित्रोदा ने पूरी कर दी. जिनकी चौरासी हिंसा के बारे में बेहद असंवेदनशील टिप्पणी कांग्रेस को भारी पड़ सकती है.



Advertisement