NDTV Khabar

सिटी सेंटर: नोएडा पुलिस का ऑपरेशन क्लीन और पर्वतारोहियों के शव लेकर लौटे आईटीबीपी के जवान

 Share

अगर आप नोएडा या दिल्ली एसीआर के आसपास रहते हैं तो ये कुछ चीज़ें हैं, जिसके बारे में आपने ज़रूर सुना या देखा होगा. गाड़ियों में काले शीशे, तेज़ साइयरन की आवाज़, नंबर प्लेट की जगह जाट, गुज्जर, ब्राह्मण, लिखा रहना, रॉन्ग साइड गाड़ी चलाना और कारोबार करना.वैसे तो सब जानते हैं पर जिसे नहीं मालूम उसे हम बताना चाहते हैं अगर आप अपनी कार में बैठ कर शराब पीये और साथ में कुछ चखना वगैरा ऑर्डर कर ले तो उसे कारोबार कहा जाता है. नोएडा पुलिस ने देर से ही सही लेकिन अब कार्रवाई कर दी है, साढ़े 3 घंटे में क़रीब 1500 चालान काटे गए हैं. और असंभव को संभव कर दिखाया है आईटीबीपी के डेयरडेविल्स ने. उत्तराखंड के नंदा देवी के पास लापता हुए पर्वतरोहियों के शव खोजना और उन्हें वापस लाना बहुत बड़ी बात है. ऐसा बचाव अभियान जिसमें हेलीकॉप्टर और दूसरे उपकरण फेल हो गए. लेकिन इन जवानों ने इस असंभव से दिखने वाले काम को भी संभव बना दिया है. 500 घंटे तक चले कठिन अभियान के बाद सात शवों की खोज हुई. हेलीकॉप्टर का भी दम फुलने लगा तो रस्सी और पुली की मदद ली गई . 19 हजार फीट से 15 हजार फीट तक शव जवान लेकर आए .क्योंकि 19 हजार फीट पर हेलीकॉप्टर से शव लाना मुमकिन नही था ,तभी डीजी ने डेयरडेवल्स के टीम को खुद सम्मानित किया.



Advertisement