NDTV Khabar

हर जिंदगी है जरूरी: प्रीनटल डिप्रेशन है मां- बच्चे के लिए खतरनाक

 Share

दुनियाभर में करीब 10 प्रतिशत महिलाएं गर्भावस्था के दौरान और करीब 13 प्रतिशत महिलाएं बच्चे के जन्म के बाद डिप्रेशन का शिकार हो जाती हैं. जबकि भारत जैसे विकासशील देशों में यह आंकड़ा क्रमश: 15.6 और 19.8 प्रतिशत है. इसलिए इस बात का ध्यान रखना और महिलाओं का ख्याल रखना जरूरी है.



Advertisement