NDTV Khabar

हम लोग : यूपी चुनाव में अखिलेश फैक्टर कितना काम करेगा?

 Share

उत्तर प्रदेश में विधानसभा का यह एक ऐसा चुनाव है, जिसमें कोई बहुत बड़ा मुद्दा हावी नहीं है. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की यह कोशिश रही है कि वो इस चुनाव को व्यक्तित्व की लड़ाई में बदल दें यानी कि एक पर्सनैलिटी कॉन्टेस्ट अखिलेश बनाम अन्य. हालांकि पिछले छह महीने उनके लिए सियासी और निजी तौर पर बहुत मुश्किल भरे रहे. यूपी के चुनावी अखाड़े में बीजेपी के पास कोई मुख्यमंत्री चेहरा नहीं है. बसपा में मायावती के अलावा उनकी पार्टी में कोई और नहीं है और वह लोकप्रियता के मामले में अखिलेश से पिछड़ गई हैं. अखिलेश युवाओं की पहली पसंद बनते जा रहे हैं.



Advertisement