NDTV Khabar

मुकाबला: क्या विवादों से बच सकता था चुनाव आयोग?

 Share

शायद ही कोई राजनीतिक दल बचा है जिसने इस बार लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल न उठाया हो. बंगाल की बात करें तो टीएमसी आरोप रहा है मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट तो मोदी कोड ऑफ कंडक्ट हो गया है. राहुल गांधी कहते हैं कि चरणों का चरण तो मोदी को ध्यान में रखकर तय किया गया है. पीएम मोदी को चुनाव आयोग से मिली क्लीनचिट पर सवाल खड़े किए गए. पूछा गया कि क्या सही में चुनाव आयोग इस बार निष्पक्ष होकर काम कर रहा है?



Advertisement