NDTV Khabar

NDTV एक्सक्लूसिव : जानिए कैसे बन रहा है भारत का अपना स्पेस शटल

 Share

एनडीटीवी के साइंस एडिटर पल्लव बागला को भविष्य के रॉकेट निर्माण की प्रक्रिया को करीब से जानने का मौका मिला। इसरो में तीन दशक से काम करने वाले 53 साल के मोहन बताते हैं कि भारत के लिए आरएलवी डिज़ाइन करने के लिए उन्हें 15 साल पहले चुना गया था। वह कहते हैं कि आरएलवी को बनाना किसी सपने से कम नहीं क्योंकि यह बेहद जटिल और चुनौतीपूर्ण काम है। देखिए खास रिपोर्ट



Advertisement