NDTV Khabar

मिशन चंद्रयान-2 इसरो का सबसे महत्वाकांक्षी मिशन

 Share

भारत चांद के और क़रीब पहुंचने की मुहिम पर है. चंद्रमा पर भारत का दूसरा वैज्ञानिक मिशन चंद्रयान-2 आधी रात आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा से लॉन्च होने वाला है. ये भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो का अब तक का सबसे महत्वाकांक्षी और जटिल मिशन है जिसका मक़सद है चांद के बारे में कई नई वैज्ञानिक जानकारियां जुटाना. लॉन्च के लिए श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर पर सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं, काउंट डाउन जारी है. एक ख़ास बात ये है कि क़रीब एक हज़ार करोड़ रुपए की लागत के इस मिशन की अगुवाई दो महिला वैज्ञानिक कर रही हैं. ये हैं प्रोजेक्ट डायरेक्टर एम वनिता और मिशन डायरेक्टर ऋतु कारिधाल. चंद्रयान-2 से जुड़ी टीम में 30% महिला वैज्ञानिक, इंजीनियर और तकनीशियन हैं. तो इस तरह ये मिशन देश की महिला शक्ति की काबिलियत की भी एक बानगी है. इस अहम मिशन का गवाह बनने के लिए ख़ुद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद श्रीहरिकोटा पहुंच चुके हैं.



Advertisement