NDTV Khabar

फिल्‍म रिव्‍यू: 'हसीना पारकर' की कहानी है कमजोर

 Share

हसीना पारकर दाऊद इब्राहिम की छोटी बहन है और फिल्‍म में दिखाया गया है कि उसे अपने भाई की वजह से कई तरह की तकलीफों का सामना करना पड़ता है. फिल्म प्रेजेंट और फ्लैशबैक के बीच में झूलती है. फिल्म में बम धमाकों, हिंदू मुस्लिम दंगों और दाऊद के दुबई जाने के जरिये हसीना की जिंदगी को दिखाने की कोशिश है. हसीना श्रद्धा कपूर सीधी-सादी जिंदगी जीती है, अपने पति अंकुर के साथ. लेकिन दाऊद की वजह से उसकी जिंदगी ही बदल जाती है. अंडरवर्ल्ड डॉन भाई की बहन की कहानी के नजरिये से देखिए तो यह एक अच्छी कोशिश थी लेकिन खराब ट्रीटमेंट की वजह से फिल्म का बाजा बज जाता है. न तो स्टोरी में मजा आता है न ही फिल्म का फ्लो ही कोई असर डाल पाता है.



Advertisement