NDTV Khabar

दुबई की कंपनी में नौकरी कर रहा था आयुष, ईरान के बंदरगाह से है लापता

 Share

नोएडा के युवक के ईरान में जहाज से लापता होने के मामले में परिजनों ने मानव तस्करी का शक जताया है. परिजनों ने शिपिंग कंपनी व नोएडा की प्लेसमेंट एजेंसी की मिलीभगत का आरोप लगाया हैय. इसके लिए परिवार के लोगों ने पीएमओ, विदेश मंत्रालय से लेकर कई एजेंसियों से शिकायत की है। ईरान स्थित भारतीय दूतावास ने वहां के असालू बंदरगाह पर 48 घंटे का सर्च अभियान चलाया लेकिन युवक नहीं मिला. सोमवार को परिजनों ने नोएडा पुलिस से इसकी शिकायत की है. बहन शैली चौधरी ने बताया कि आयुष सेक्टर-15 की प्लेसमेंट एजेंसी आरएएस शिपिंग कंपनी के माध्यम से दुबई की पिंक रोज कंपनी की जहाज पर ट्रेनी की नौकरी 4 मई 2018 को शुरू किया. दुबई की जहाज से वह ईरान गया था.



Advertisement