NDTV Khabar

पतंजलि की मुश्किलें बढ़ी, लाइसेंस लेते समय COVID-19 का नहीं किया था उल्लेख

 Share

योग गुरु रामदेव और उनकी कोरोनावायरस के इलाज के लिए बनाई दवा की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. दरअसल पतंजलि आयुर्वेद ने लाइसेंस के लिए आवदेन करते समय इस बात की जानकारी नहीं दी थी कि वे कोरोना के उपचार के लिए दवा तैयार कर रहे हैं. एक लाइसेंस अधिकारी ने कहा कि हर्बल उत्पाद बनाने वाली पंतजलि कंपनी के पास सिर्फ "इम्युनिटी बूस्टर, खासी और बुखार की दवा का लाइसेंस है". गौरतलब है कि मंगलवार को पतंजलि ने "कोरोनिल और स्वासरी" दवाओं के साथ कोरोना किट लॉन्च की थी. रामदेव का दावा है कि ट्रायल के दौरान उन्हें 100 फीसदी कामयाबी मिली.



Advertisement

 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com