NDTV Khabar

पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों का बढ़ाया हौसला

 Share

Chandrayaan 2 के लैंडर से संपर्क टूटने के बाद पीएम मोदी (PM Modi) ने ISRO के वरिष्ठ वैज्ञानिकों से शनिवार सुबह मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने राष्ट्र के नाम संबोधन भी दिया. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि आप निराश न हो. मैं यह सिर्फ आपको खुश करने के लिए नहीं कह रहा है, मुझे पता है कि आप ही वो लोग हैं जिन्होंने अपने पहले प्रयास में ही मंगल ग्रह पर पहुंचने में सफलता हासिल की थी. हम चांद पर भी सफल होंगे. उन्होंने कहा कि हमारे चंद्रयान (Chandrayaan Landing) ने ही दुनिया को चांद पर पानी होने जैसी जानकारी दी. ये आपके ही प्रयास थे कि हमनें 100 से ज्यादा सेटेलाइट एक साथ लॉन्च करके एक नया रिकॉर्ड बनाया था. पीएम मोदी ने कहा कि जब इसरो के पास सक्सेस की इनसाइक्लोपीडिया हो तो एक दो रुकावट हमें नहीं रोक सकती है. साथियों हम अमृत की संतान है. अमृत की संतान के लिए न कोई रुकावट है न ही कोई निराशना है. हमें पीछे मुड़कर निराश नहीं होना है, हमें सबक लेना है, सीखना और आगे ही बढ़ते जाना है. हमें रुकना नहीं है. हम निश्चत रूप से सफल होंगे. पीएम मोदी ने कहा कि हम अगले हर प्रयास में कामयाबी साथ लाएंगे. हमें सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है. आप सभी को आने वाले मिशन के लिए शुभकामनाएं. मैंने पहले कहा था कि विज्ञान परिणामों से कभी संतुष्ट नहीं होता है, विज्ञान का गुण है कि यह प्रयास और प्रयास चाहता है. वह परिणाम से भी नए प्रयास के अवसर ढूंढ़ता है. मैंने सुबह सुबह आपका दर्शन आपसे प्ररेणा पाने के लिए किया है. आप अपने आप में प्रेरणा का समंदर हैं.



Advertisement