NDTV Khabar

जानिए कैसा रहा सुषमा स्वराज का राजनीतिक सफर

 Share

सुषमा स्वराज का जन्म 14 फ़रवरी 1952 को अंबाला कैंट हरियाणा में हरदेव शर्मा और लक्ष्मी देवी के घर हुआ था. बचपन से ही सुषमा बेहद ज़हीन थीं. वक्ता के तौर हो या एनसीसी कैडेट के रूप में उन्होंने बहुमुखी प्रतिभाशाली छात्रा के रूप में पहचान बनाई, बाद में अपने सियासी सफ़र में उनकी आख़िरी मंज़िल भारत के विदेश मंत्री के तौर पर रही. 25 साल की छोटी उम्र में वो हरियाणा सरकार में कैबिनेट मंत्री बनीं. 1977 में सबसे कम उम्र की हरियाणा सरकार की मंत्री बनने का रिकॉर्ड बनाने वाली सुषमा स्वराज दिल्ली की मुख्यमंत्री भी रहीं. बीजेपी की बेहद सम्मानित नेता सुषमा स्वराज बेहद शालीन थी जिनके चेहरे पर हमेशा मुस्कान बिखरी रहती थी. विदेश मंत्री के रूप में संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ अपने बेहद प्रभावशाली भाषण के ज़रिए भारत का पक्ष मज़बूती से रखा. सुषमा स्वराज मध्य प्रदेश के विदिशा से 2014 में सांसद रहीं इससे पहले वो दक्षिणी दिल्ली से भी दो बार सांसद रहीं. ख़राब स्वास्थ्य की वजह से 2019 का लोकसभा चुनाव उन्होंने नहीं लड़ा. संसद में उनके असरदार भाषणों ने अपनी अमिट छाप छोड़ी है. सुषमा अपने पीछे पति स्वराज कौशल और बेटी बांसुरी को छोड़ गई हैं. उनको नम आंखों से विदाई देने का सिलसिला जारी है.



संबंधित

Advertisement