NDTV Khabar

'आरे' के विरोध पर प्रकाश जावड़ेकर ने दिया दिल्ली का उदाहरण

 Share

मुंबई की आरे कॉलोनी में पेड़ काटे जाने के हो रहे विरोध को लेकर केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सफाई दी है. उन्होंने कहा कि प्रोजेक्ट के लिए पेड़ काटे जाने जरूरी हैं. साथ ही उन्होंने हाईकोर्ट के बात को जोहराते हुए कहा कि आरे कोई जंगल नहीं है. इसके अलावा उन्होंने दिल्ली का उदाहरण भी दिया. जावड़ेकर ने कहा कि दिल्ली में भी मेट्रो बनने के दौरान ऐसा ही विरोध हुआ था लेकिन इस दौरान जितने पेड़ काटे गए उससे पांच गुना पेड़ लगाए गए.



Advertisement