NDTV Khabar

रामलीला के चंदे में गिरावट, खर्च में कटौती

 Share

आर्थिक मंदी की दस्तक अब वहां भी पहुंच रही है जिन्हें हम कारोबार के इलाक़ों में नहीं गिनते. इस साल रामलीलाओं को अपना बजट घटाना पड़ा है क्योंकि इनका चंदा घट गया है. ये छोटी मोटी रामलीलाओं की कहानी नहीं है. ये उन बेहद भव्य रामलीलाओं का हाल है जहां प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति मेहमान होते हैं. कलाकारों को इस बार पुरानी पोशाकों से काम चलाना पड़ रहा है. वहीं इस बार सदस्यों की संख्या में भी भारी गिरावट आई है.



Advertisement