NDTV Khabar

पक्ष-विपक्ष: सांप्रदायिकता की राजनीति क्यों?

 Share

दिल्ली के जाकिर हुसैन कॉलेज में एनडीटीवी की संवाददाता अंजली इस्टवाल छात्र-छात्राओं संग नेताओं के बदलने वाले मिजाज और रैलियों में अभद्र टिप्पणियों के बारे में बात की. यहां पर मौजूद स्टूडेंट्स ने अपने-अपने राय रखी. लोगों ने कहा, कोई भी राजनेता वही बोलता है जो जनता सुनना चाहती है. कुछ लोगों ने कहा कि वोट सामाजिक मामलों पर मांगी जानी चाहिए न कि मजहब के नाम पर. चलिए देखते हैं आखिर और किन मुद्दों पर बातचीत हुई.



Advertisement