NDTV Khabar

सिस्टम का सितम, 8 साल से बिना वेतन के पढ़ा रहे महाराष्ट के 23 शिक्षक

 Share

एक मिनट में क्या 32 चूहे मारे जा सकते हैं, इस सवाल पर नासा के वैज्ञानिक नहीं बल्कि महाराष्ट्र के राजनेता बहस कर रहे हैं. जब इतने चूहे मारे जा रहे थे तब किसी ने नहीं देखा कि 3 मई से लेकर 10 मई 2016 के बीच 3 लाख 20 हज़ार चूहे मारे गए, क्या उस दौरान किसी भी पत्रकार ने इस दृश्य को नहीं देखा होगा. बीजेपी के विधायक एनकाथ खडसे को शक न होता तो कांग्रेस का भी दिमाग़ नहीं चलता. खडसे ने आरोप लगाया कि कि 7 दिन में 3 लाख 20 हज़ार चूहे कैसे मारे जा सकते हैं? वो भी एक इमारत के भीतर. जबकि उसी शहर में बीएमसी पूरे 2 साल में 3 लाख चूहे मार सकती है. भारत एक लाजवाब देश है.



Advertisement