NDTV Khabar

प्राइम टाइम : प्रेमचंद के गांव लमही की तस्वीर

 Share

लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान को मानो अनाप-शनाप की बहसों और हजारों करोड़ रुपये के विज्ञापन के अलावा किसी और चीज की जरूरत नहीं महसूस नहीं होती, लेकिन ऐसे में इसमें साहित्य का एक छौंक लगाने की कोशिश करती मुंशी प्रेमचंद के गांव लमही से रवीश की यह रिपोर्ट...



Advertisement