NDTV Khabar

प्राइम टाइम : इंसाफ़ के दरवाज़े सबके लिए नहीं खुलते

 Share

सिस्टम के सितम में आज हम टिन के इस मकान में रहने वाले एक पिता राजू आगे की बात करेंगे. महाराष्ट्र का एक ज़िला है अहमदनगर, इस ज़िले के जामखेड़ तालुका का एक गांव है खरडा. इसी गांव के रहने वाले हैं राजू आगे. आइये आपको खर्डा गांव ही ले चलते हैं. गांव के बाहर आपको कस्बे का अहसास कराएगा. चहल पहल के हिसाब से गांव से ज़्यादा लगता है. 15 हज़ार की आबादी वाला यह बड़ा गांव है. इसी गांव के एक छोर पर है राजू आगे का यह मकान जो टिन का बना है. इसकी छत पर डिश एंटिना है. घर के भीतर टीवी है मगर दीवार पर अंबेडकर हैं, बुद्ध भगवान हैं और दोनों के बगल में एक लड़के की तस्वीर है जिसका नाम है नितिन आगे. नितिन आगे की तीन साल पहले हत्या कर दी गई थी, जिसके इंसाफ के लिए राजू आगे लड़ाई लड़ रहे हैं.



Advertisement