NDTV Khabar

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: बिना इंटरनेट कश्मीर में पत्रकारिता सूनी और DU में कैसे जी रहे हैं शिक्षक

 Share

आज दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने ज़बरदस्त प्रदर्शन किया है. उनके प्रदर्शन पर हम विस्तृत चर्चा कश्मीर की इस रिपोर्ट के बाद करेंगे. कश्मीर में आम लोगों के लिए 120 दिनों से इंटरनेट बंद है. 5 अगस्त से इंटरनेट बंद है. कश्मीर टाइम्स की अनुराधा भसीन ने दस अगस्त को सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई थी कि बगैर इंटरनेट के पत्रकार अपना मूल काम नहीं कर पा रहे हैं तो उन्हें छूट मिलनी चाहिए. इस केस को लेकर पहली सुनवाई 16 अगस्त कोई और नवंबर के महीने तक चली. बहस पूरी हो चुकी है और फैसले का इंतज़ार है. मगर बगैर इंटरनेट के कश्मीर के पत्रकार क्या कर रहे हैं. वे कैसे खबरों की बैकग्राउंड चेकिंग के लिए तथ्यों का पता लगा रहे हैं. दुनिया में यह अदभुत प्रयोग हो रहा है.



Advertisement