NDTV Khabar

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: क्या मिट गया भानु प्रताप साही का 'दाग'?

 Share

प्रधानमंत्री सोमवार को झारखंड के डाल्टेनगंज में थे. मंच पर उनके साथ भानु प्रताप साही भी थे. बीजेपी ने भानु प्रताप साही की पार्टी का विलय कराया और इन्हें भवनाथपुर से टिकट दिया. प्रधानमंत्री ने इनका परिचय कराया और भानु प्रताप ने भी भारत माता की जय के नारे प्रधानमंत्री के साथ लगाए. भानु प्रताप साही ने 2019 में हलफनामा दायर किया था उसके अनुसार उन पर अलग अलग 6 मामलों में चार्जशीट है. हत्या के प्रयास का मामला है. 2011 में भानु प्रताप साही ने 130 करोड़ के दवा घोटाले के मामले में सीबीआई के स्पेशल कोर्ट के सामने सरेंडर किया था. जेल गए थे. दो साल जेल में रहे थे.



Advertisement