NDTV Khabar

प्राइम टाइम : रामजस कॉलेज में हंगामे से उठे बोलने की आजादी पर सवाल

 Share

दिल्ली विश्वविद्यालय का एक कॉलेज है रामजस. 1917 में राज केदार नाथ ने रामजस कॉलेज की स्थापना की थी. इस साल इस कॉलेज के सौ साल पूरे हो गए. उस वक्त हमारे पूर्वजों ने आज़ाद भारत का नारा लगाना शुरू कर दिया था. 'हमें चाहिए आज़ादी' वाला आजकल का नारा तो नहीं था मगर उस वक्त के हर नारे का यही मतलब होता था कि 'हमें चाहिए आज़ादी'. अब तो हमें चाहिए आज़ादी के नारे के पक्ष और विपक्ष में कई तरह के नारे हो गए हैं. जो वहां नहीं बोला जा सका, क्या वो यहां बोला जा सकता है. इसी विषय पर देखिए आज का प्राइम टाइम...



Advertisement