NDTV Khabar

प्राइम टाइम इंट्रो : कर्नाटक के राज्‍यपाल के फैसले पर उठे सवाल

 Share

कांग्रेस का तर्क है कि सीधा नियम है कि जिसका बहुमत हो उसे बुलाया जाए. इसके बाद प्री पोल गठबंधन को और वो बहुमत साबित न कर पाए तो चुनाव बाद गठबंधन को. फिर चुनाव बाद के पास बहुमत न हो तब जाकर सबसे बड़ी पार्टी या समूह को बुलाया जाए न कि अकेली सबसे बड़ी पार्टी को. रामेश्वर प्रसाद जजमेंट और सरकारिया कमिशन ने यही व्यवस्था दी गई है. सुप्रीम कोर्ट ने भी इसे 2017 के फैसले में सही ठहराया है.



Advertisement