NDTV Khabar

रवीश कुमार के प्राइम टाइम में जावेद अख्तर ने कथित सेक्युलर पार्टियों पर भी उठाए सवाल

 Share

सेक्‍युलरिज्‍म पर चर्चा करते हुए जावेद अख्तर ने कहा कि सेक्‍युलरिज्‍म का मतलब, हर धर्म की इज्जत करना होना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है. जिसका खामियाजा सेक्‍युलर पार्टियां भुगत भी रही हैं. जावेद अख्तर ने कहा कि तथाकथित सेक्‍युलरवादी पार्टियों ने इसकी चिंता करने की बजाय इसका बेजा इस्तेमाल किया. शाही इमाम के किस्से का जिक्र करते हुए जावेद अख्तर ने बताया कि शाही इमाम, इमरजेंसी के बाद वो पहली बार अटल बिहारी वाजपेयी और लाल कृष्ण आडवाणी के साथ दिल्ली आए थे, इससे पहले उनका नाम नहीं सुना था लेकिन उनके आते ही दूसरी पार्टियों ने भी इस मुद्दे को लपक लिया. सेक्‍युलर पार्टियों ने यही गलत किया.



Advertisement