NDTV Khabar

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : मुरादाबाद में पत्रकारों को कमरे में बंद करने की खबर को कैसी मिली कवरेज

 Share

मुरादाबाद में पत्रकारों को कमरे में बंद किए जाने को लेकर वहां के तीन बड़े अखबारों ने कोई विशेष कवरेज नहीं की है. इन अखबारों में दैनिक हिन्दुस्तान, दैनिक जागरण और अमर उजाला शामिल हैं. हिन्दुस्तान अखबार ने लिखा है कि पत्रकारों को डीएम के निर्देश पर इमरजेंसी वार्ड में बंद कर दिया गया. जब उन्होंने हंगामा किया तो ज़िलाधिकारी फिर लौट कर आए, दरवाज़ा हल्का सा खोला और फिर दरवाज़ा बंद करवाकर चले गए. मुख्यमंत्री के जाने के 15 मिनट बाद दरवाज़ा खोला गया और वे बाहर आ सके.



Advertisement