NDTV Khabar

प्राइम टाइम : सियासी मोहरा बनती जा रही है हिंसक भीड़?

 Share

भीड़ अपने आप में पुलिस हो गई है और अदालत भी जो किसी को पकड़ती है और मार देने का फैसला कर लेती है. कोई सवाल न करे इसलिए सबसे अच्छा है गौ तस्करी का आरोप लगा दो ताकि धर्म का कवच मिल जाए जबकि संविधान में कहीं नहीं लिखा है कि धर्म और आस्था की रक्षा के नाम पर किसी की हत्या की जा सकती है. आस्था का इस्तेमाल टीवी से लेकर सोशल मीडिया पर होने वाली बहसों के लिए किया जाता है ताकि ऐसी घटनाओं की छोटी मोटी निंदा करने के साथ इसके पीछे की वैचारिक और राजनीतिक सोच का बचाव भी किया जाता रहे.



Advertisement