NDTV Khabar

रणनीति इंट्रो : युद्ध का अखाड़ा बनता जा रहा है JNU?

 Share

JNU में फिर से लाल परचम लहराया. वामपंथ ने चारों अहम सीटों पर अपना कब्जा बनाया. इस बार के चुनाव में 67.8 फीसदी वोट डाले गए थे, जो शायद पिछले 6 सालों में सब से ज्यादा माना जा रहा है. N sai balaji जेएनयू अध्यक्ष चुने गए. लेकिन पूरे चुनाव के दौरान हिंसा हुई पहली बार 10 छात्र जख्मी हुए. ABVP और left एक दूसरे पर हिंसा का आरोप लगा रहे हैं.



Advertisement