NDTV Khabar

रणनीति: क्या बढ़ रहा है हिंदू कट्टरपंथ का खतरा?

 Share

एटीएस ने एक तथाकथित बड़े हमले को टालते हुए कुछ दिनों पहले तीन गिरफ्तारियां की. वैभव राउत, शरद कलास्कर और सुधानव गोंधालेकर. दो की गिरफ्तारी पालघर में नालासोपारा से हुई. पहले वैभव राउत के घर से और दुकान से 20 देसी बम के साथ विस्फोटक, जिलेटिन स्टिक, डेटोनेटर, बैटरी और सर्किट जैसे सामान मिले. फिर बाकी साथियों की गिरफ्तारी के बाद दूसरी एक जगह से हथियार बनाने के एक कारखाने का पता चलता है जहां से मैगजीन भरी 10 देसी पिस्तौल, 1 देसी कट्टा, 1 एयर गन, 6 पिस्टल बैरल, 6 पिस्टल मैगजीन, गाड़ियों की 6 नंबर प्लेट, आधी बनी 6 पिस्तौल समेत दूसरे सामान बरामद हुए हैं. गिरफ्तारी के तीसरे दिन भी नालासोपारा से 5 देसी पिस्तौल, 3 अधबनी देसी पिस्तौल और कई अवैध उपकरण मिले.



Advertisement