NDTV Khabar

मध्य-प्रदेश में साधु-संतों का कांग्रेस को समर्थन, BJP पर बोले- जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीचसाधु-संतों ने कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य-प्रदेश में साधु-संतों का कांग्रेस को समर्थन, BJP पर बोले- जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार में मंत्री रहे कंप्यूटर बाबा के नेतृत्व में कई संतों ने कांग्रेस को समर्थन देने का किया एलान.

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच बीजेपी के लिए बुरी खबर है. जबलपुर में शुक्रवार को साधु-संतों की ओर से आयोजित 'नर्मदा संसद' में कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया गया है. नर्मदा नदी के तट पर 'नर्मदा संसद' का आयोजन कंप्यूटर बाबा ने किया, जिन्हें शिवराज सरकार में राज्यमंत्री का दर्जा मिला था. कुछ महीने बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था. इस संसद में प्रदेश और देश के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में साधु-संत यहां पहुंचे. उन्होंने अपनी बात कही. साथ ही कहा, "जो राम का नहीं वह किसी काम का नहीं."

कंप्यूटर बाबा ने खुले तौर पर शिवराज सरकार पर कई आरोप लगाए और कहा, "इस सरकार को सबक सिखाने का समय आ गया है, कांग्रेस को पांच साल का मौका देना चाहिए. माफ करें शिवराज और माफ करें महाराज, आइए कांग्रेस को मौका देते हैं."नर्मदा संसद में सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि चुनाव में साधु-संत कांग्रेस के लिए काम करेंगे। कंप्यूटर बाबा ने कहा, "शनिवार से साधु-संत कांग्रेस के लिए जुट जाएं और नई सरकार बनाएं."मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सरकार और कंप्यूटर बाबा में जमकर तनातनी चलती रही है. बाबा अब लगातार राज्य के विभिन्न हिस्सों में जाकर संतों का सम्मेलन कर रहे हैं.

टिप्पणियां
वीडियो- शिवराज पर बरसे 'कम्प्यूटर बाबा' 
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement