NDTV Khabar

राहुल गांधी की मौजूदगी में कमलनाथ ने ली मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ, समारोह में पहुंचे पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी की कांटे की लड़ाई हुई है. चुनाव जीतने के बाद माना जा रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा

3.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी की मौजूदगी में कमलनाथ ने ली मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ, समारोह में पहुंचे पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान

कमलनाथ ने ली सीएम पद की शपथ

खास बातें

  1. कमलनाथ बने मध्य प्रदेश के सीएम
  2. समारोह में दिखी विपक्षी एकता की झलक
  3. मंच पर शिवराज भी थे मौजूद
भोपाल:

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के नेता कमलनाथ  ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. भव्य समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई.  इस समारोह में कांग्रेस के प्रमुख नेता सहित विपक्षी दलों के नेता भी मौजूद थे. शपथ ग्रहण समारोह में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, एच.डी.देवगोड़ा, शरद यादव, राकांपा के शरद पवार, चंद्रबाबू नायडू और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे. शपथ ग्रहण समारोह जम्बूरी मैदान में हुआ. मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था और 11 दिसंबर को आए चुनाव परिणाम में प्रदेश की कुल 230 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस को 114 सीटें मिली हैं. यह संख्या साधारण बहुमत, 116 सीट, से दो कम हैं. हालांकि बसपा के दो, सपा के एक और चार अन्य निर्दलीय विधायकों ने कांग्रेस को समर्थन दिया है. जिससे कांग्रेस को फिलहाल कुल 121 विधायकों का समर्थन हासिल है. वहीं, भाजपा को 109 सीटें मिली हैं. 
 

amj9cgq8
 

NDTV को कमलनाथ ने बताया- शपथ ग्रहण समारोह में क्यों शामिल नहीं होंगी ममता और मायावती


मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी की कांटे की लड़ाई हुई है. चुनाव जीतने के बाद माना जा रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमलनाथ को सीएम पद के लिए नामित कर दिया. इस फैसले सिंधिया के समर्थक विधायकों में नाराजगी भी देखी जा रही है. 

कमलनाथ बोले- राहुल गांधी ने कभी नहीं कहा कि वे PM बनना चाहते हैं, कांग्रेस भी जल्दबाजी में नहीं

टिप्पणियां

पार्टी के फैसले से नाराज विधायकों की मांग है कि राजस्थान की तर्ज पर ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी उप मुख्यमंत्री बनाया जाए इसके साथ ही पार्टी प्रदेशाध्यक्ष की भी जिम्मेदारी दी जाए.

कमलनाथ के खिलाफ विरोध प्रदर्शन​
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement