NDTV Khabar

Karnataka Election Results Live : कर्नाटक के नतीजे तय करेंगे 2019 की तस्वीर, इन 130 सीटों पर पड़ सकता है असर

इन सीटों में कर्नाटक में 28, आंध्र प्रदेश में 25, केरल में 21, तमिलनाडु में 39, तेलंगाना में 17 आती हैं. सीटों के लिहाज से तमिलनाडु सबसे बड़ा राज्य है और इसके बाद कर्नाटक आता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Karnataka Election Results Live : कर्नाटक के नतीजे तय करेंगे 2019 की तस्वीर, इन 130 सीटों पर पड़ सकता है असर

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे तय करेंगी 2019 की तस्वीर

खास बातें

  1. 8 बजे से शुरू होगी मतगणना
  2. कर्नाटक में अभी है कांग्रेस की सरकार
  3. जेडीएस बन सकती है किंगमेकर
बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव  के नतीजे आज आने वाले हैं. चुनाव आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक मतगणना 8 बजे शुरू हो जायेगी. राष्ट्रीय राजनीति के हिसाब से देखें तो बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिए यह चुनाव अहम साबित होगा. उपचुनाव में लगातार का हार का सामना कर रही बीजेपी की पूरी कोशिश है कि कर्नाटक में हर हाल में कमल जरूर खिले. वहीं कांग्रेस राज्य में सत्ता में बचाकर पूरे देश में साबित करना चाहती है कि वही देश में अच्छी और प्रभावी सरकार दे सकती है. इस चुनाव के बाद हिन्दी पट्टी के कई राज्यों में चुनाव होने हैं और जाहिर है कि कर्नाटक के चुनाव नतीजे इनको प्रभावित कर सकते हैं. दूसरी ओर दक्षिण भारत में कर्नाटक को छोड़कर बीजेपी इन राज्यों में प्रभावी भूमिका निभाने की कोशिश कर रही है. दक्षिण भारत से कुल 130 सीटें लोकसभा के लिये आती हैं. 

कर्नाटक विधानसभा चुनाव LIVE UPDATE: आज आएंगे नतीजे, सुबह 8 बजे से शुरू होगी मतगणना

इन सीटों में कर्नाटक में 28, आंध्र प्रदेश में 25, केरल में 21, तमिलनाडु में 39, तेलंगाना में 17 आती हैं. सीटों के लिहाज से तमिलनाडु सबसे बड़ा राज्य है और इसके बाद कर्नाटक आता है. इन राज्यों में आंध्र प्रदेश में बीजेपी इस बार अकेले दम पर चुनाव लड़ने का दावा ठोक रही है. वहीं कर्नाटक को छोड़ दिया तो बाकी राज्यों में क्षेत्रीय दल राष्ट्रीय दलों से ज्यादा प्रभावी भूमिका हैं और कर्नाटक को छोड़ बाकी राज्यों में इन्हीं की सरकार है. 

टिप्पणियां
वीडियो : कौन बनेगा कर्नाटक का मुख्यमंत्री

जाहिर लोकसभा चुनाव 2019 के लिये दक्षिण की 130 सीटों की अहम भूमिका होगी. बीजेपी कई सालों से इन सीटों पर ज्यादा से ज्यादा कब्जा करने के लिये कोशिश कर रही है. क्योंकि उत्तर भारत के ज्यादातर राज्यों में अब बीजेपी की ही सरकार है और उसे वहां पर सत्ता विरोधी लहर का सामना करना पड़ सकता है. इसलिये उसकी कोशिश है कि इस नुकसान की भरपाई इन 130 सीटों से की जाये. वहीं कांग्रेस भी सत्ता में वापसी के लिए इन सीटों का महत्व है. वह इन राज्यों में कई सालों तक सत्ता में रही है. 

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement