NDTV Khabar

मध्यप्रदेश : उमा भारती ने कहा, ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग करे शंकाओं का समाधान

मतदान के दौरान 211 बैलेट यूनिट, 214 कंट्रोल यूनिट और 812 वीवीपैट मशीनें बदली गईं, कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की शिकायत

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश : उमा भारती ने कहा, ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग करे शंकाओं का समाधान

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. भोपाल में स्ट्रांग रूम के कैमरे बंद मिले
  2. सतना जिले के स्ट्रांग रूम में अज्ञात बक्से ले जाए गए
  3. उमा भारती ने कहा- आयोग का दायित्व है कि सबको संतुष्ट करे
भोपाल:

मध्यप्रदेश में ईवीएम को लेकर सवाल जारी हैं. सागर वाले मामले में नायब तहसीलदार राजेश मेहरा को निलंबित किया जा चुका है, लेकिन ऐसी ही खबरें अनूपपुर, खंडवा से भी आईं. ईवीएम को लेकर प्रदेश में कई स्थानों पर बने स्ट्रांग रूम की सुरक्षा पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं. केद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग को राजनीतिक दलों की शंकाओं का समाधान करना चाहिए.

भोपाल में स्ट्रांग रूम के कैमरे बंद होने का मामला और सतना जिले के स्ट्रांग रूम में अज्ञात बक्से ले जाने का वीडियो फुटेज सामने आया था. ईवीएम को लेकर कांग्रेस के साथ अब केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भी सवाल उठाते हुए कहा है कि चुनाव आयोग को शंकाओं का समाधान करना चाहिए.

दरअसल मतदान के दौरान जब कड़ी सुरक्षा के बीच, 65,341 मतदान केंद्रों में मध्यप्रदेश की नई विधानसभा के लिए वोट डाले गए, तो कई जगहों पर मतदान में देरी हुई. मॉक पोल के दौरान ही खराबी की वजह से 360 बैलेट यूनिट बदले गए, 369 कंट्रोल यूनिट बदले गए और 732 वीवीपैट मशीन बदली गईं. जबकि मतदान शुरू होने के बाद 211 बैलेट यूनिट बदले गए, 214 कंट्रोल यूनिट बदले गए और 812 वीवीपैट मशीनें बदली गईं.


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : EVM से छेड़छाड़ का डर, कांग्रेस नेताओं ने भोपाल में स्ट्रांग रूम के बाहर लगाया टेंट, कर रहे रतजगा  
 
इसे लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग में शिकायत दी है. इधर उमा भारती का कहना है कि 'एक बार चुनाव आयोग ने सारे राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया था, आप आएं बताएं कि ईवीएम से कैसे छेड़छाड़ हो सकती है. लेकिन जिस तरह से उन्होंने बुलाया था वैसे कोई आएगा नहीं, करेगा नहीं. स्वंय वे इसके प्रयोग करके देखें और कोई बताना चाहे तो वे इसकी गोपनीयता बनाए रखते हुए इसे एक बार देख लें. दुनिया में कई देश हमसे आधुनिक हैं, वे विज्ञान-प्रौद्योगिकी में हमसे बहुत आगे हैं लेकिन वे भी ईवीएम का प्रयोग नहीं करते, जैसे अमेरिका. अगर हमने ईवीएम का प्रयोग किया है और राजनीतिक दलों के मन में आशंका आती है तो उनका दायित्व बनता है कि सबको संतुष्ट करे.'

 VIDEO : 48 घंटे बाद पहुंचीं ईवीएम
   
उन्होंने कहा कि इलेक्शन कमिश्नर ने बयान दिया था वे बहुत संतुष्ट हैं कि सब ठीक से हुआ. ये सही है कि उन्होंने निमंत्रण दिया था लेकिन कोई नहीं गया. लेकिन अगर फिर से 2-3 प्रकरण आए हैं तो संतुष्ट कर दें. सब फिर से समझ भी लें क्या-क्या भूल हो सकती है. यहां 2-3 विधानसभाओं की तरफ इशारा हुआ है तो देख भी लें उसको.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement