NDTV Khabar

कर्नाटक विधानसभा चुनाव: शिवसेना के सांसद का बड़ा बयान- कर्नाटक में कांग्रेस 'नंबर वन' पार्टी बनकर उभरेगी

एनडीए की सहयोगी शिवसेना की यह बात कांग्रेस के लिए तो अच्छी है, मगर बीजेपी को थोड़ी खल सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक विधानसभा चुनाव: शिवसेना के सांसद का बड़ा बयान- कर्नाटक में कांग्रेस 'नंबर वन' पार्टी बनकर उभरेगी

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शिवसेना सांसद संजय राउत ने बीजेपी की आलोचना की.
  2. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक में बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी.
  3. भविष्य में गठबंधन पर भी संजय राउत ने अपनी बात रखी.
नई दिल्ली:

एनडीए की सहयोगी और महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार में सत्ता में साथ देने वाली शिवसेना की यह बात कांग्रेस के लिए तो अच्छी है, मगर बीजेपी को थोड़ी खल सकती है. कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि कर्नाटक में कांग्रेस बड़ी पार्टी बन कर उभरेगी. शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस ‘नंबर एक पार्टी’ के रूप में उभरेगी. साथ ही उन्होंने बीजेपी पर तंज सकते हुए राज्यों के चुनावों प्रचार में पूरे केंद्रीय तंत्र को झोंकने का आरोप लगाते हुए इस चलन की आलोचना की.

लोकसभा चुनाव में अखिलेश के साथ गठबंधन पर NDTV से ‘यह’ बोलीं मायावती


उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में आगामी विधान परिषद चुनाव में भाजपा के साथ समझौते का मतलब यह नहीं है कि शिवसेना 2019 में होने वाले लोकसभा एवं राज्य विधानसभा चुनाव में उसके साथ गठबंधन करेगी. राउत ने कहा कि, ‘जहां भी विधानसभा चुनाव होते हैं, वहां केंद्र का पूरा कुनबा और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री (प्रचार के लिए ) पहुंच जाते हैं. ऐसे में देश और राज्यों के प्रशासन को अधर में छोड़ दिया जाता है. देश ये सबकुछ देख रहा है.’ 

कर्नाटक चुनाव: अमित शाह ने कहा, यहां सिद्धारमैया और वहां पाकिस्तान सरकार कर रही है टीपू-टीपू

उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि उन्होंने कितनी गंभीरता से अपने फर्ज को लिया है यह इससे दिख रहा है कि जहां उनका अपना राज्य धूल भरी आंधी का कहर झेल रहा है जबिक वह कर्नाटक में चुनाव प्रचार करते दिख रहे हैं.

यहां से भारत को देखो, बैंकर मायूस, मनरेगा के मज़दूर भूखे और तेल के दाम का खेल देखो...

शिवसेना नेता ने सवाल किया , ‘क्या ( भाजपा के ) केंद्रीय नेतृत्व को प्रदेश के अपने ही लोगों पर भरोसा नहीं है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दर्जनों चुनावी रैलियों को संबोधित करने की क्या जरूरत है जबकि दिल्ली में शासन के लिए उनकी जरूरत है ?’ गौरतलब है कि शिवसेना महाराष्ट्र और केंद्र की सरकारों में भाजपा की साझीदार है. इसके बावजूद वह कई मुद्दों को लेकर भाजपा के खिलाफ मुखर रही है.

भाजपा की मानसिकता दलितों को समाज के निचले पायदान पर बनाए रखने की : राहुल

टिप्पणियां

राउत ने कहा , ‘कर्नाटक में इस वक्त ‘धूल भरी आंधी ’ चल रही है और जब छंटेगी तो कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरेगी. लोगों ने अब राहुल गांधी को सुनना शुरू कर दिया है.’ शिवेसना नेता ने उम्मीद जतायी कि 2019 में महाराष्ट्र विधानसभा के चुनाव में उनकी पार्टी बहुमत हासिल करेगी और अगला मुख्यमंत्री उनकी पार्टी का ही होगा.

VIDEO: मुकाबला : कर्नाटक चुनाव में भ्रष्टाचार है मुददा? (इनपुट भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement