NDTV Khabar

'डमरू' को लेकर इस एक्टर का दावा- भोजपुरी सिनेमा को पवित्र कर देगी ये फिल्म

Bhojpuri Cinema: ‘डमरू’ 6 अप्रैल से देशभर में रिलीज होगी, मगर इससे पहले फिल्‍म के अभिनेता पद्म सिंह ने दावा किया है कि ये फिल्‍म भोजपुरी सिनेमा को पवित्र कर देगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'डमरू' को लेकर इस एक्टर का दावा- भोजपुरी सिनेमा को पवित्र कर देगी ये फिल्म

Bhojpuri Cinema: भोजपुरी फिल्म 'डमरू' को बताया जा रहा है जरा हटकर

खास बातें

  1. खेसारी लाल यादव हैं लीड रोल में
  2. एक्शन का जबरदस्त छौंक है
  3. नए तरह का कंटेंट बताया जा रहा है
नई दिल्ली: भोजपुरी फिल्‍म 'डमरू' 6 अप्रैल से देशभर में रिलीज होगी, मगर इससे पहले फिल्‍म के अभिनेता पद्म सिंह ने दावा किया है कि ये फिल्‍म भोजपुरी सिनेमा को पवित्र कर देगी. उनका मानना है कि यह फिल्‍म उन लोगों को जरूर देखनी चाहिए, जो भोजपुरी फिल्‍मों से कन्‍नी काटते हैं. इस फिल्‍म में गुरु-शिष्‍य परंपरा के साथ भोजपुरिया समाज और संस्‍कृति का बेहतर सामंजस्‍य देखने को मिलेगा. बता दें कि फिल्‍म 'डमरू' में पद्म सिंह फिल्‍म की एक्ट्रेस याशिका कपूर के पिता के किरदार में नजर आ रहे हैं, जिनकी शख्सियत एक दबंग जमींदार की है.

निरहुआ ने कर दिया ड्रीम गर्ल के ड्रीम को पूरा, जन्मदिन पर दिया ये खास तोहफा
 
'गंगाजल', 'अपहरण', 'चक दे इंडिया', 'द लेजंड ऑफ भगत सिंह' जैसी फिल्‍मों में नजर आ चुके पद्म सिंह की मानें तो युवा निर्देशक राजनीश मिश्रा और प्रोड्यूसर प्रदीप शर्मा ने ने मिलकर फिल्‍म 'डमरू' जैसी शानदार फिल्‍म बनाई है. उन्‍होंने हिंदी और भोजपुरी इंडस्‍ट्री के बारे में कहा कि दोनों इंडस्‍ट्री काफी अलग हैं और दोनों का अपना महत्‍व है. जहां तक बात डमरू की है, तो यह भी किसी हिंदी फिल्‍म से कम नहीं है. संवेदना और भाव भंगिमा ही अभिनय की मूल में हैं, जो इस फिल्‍म में बखूबी देखने को  मिलेगी.

'तोड़ दे दुश्‍मन की नली राम और अली' का ट्रेलर हुआ रिलीज, दिखा एक्शन और ग्लैमर का कॉकटेल

 
Viral Video: पोती का गाना बजते ही ठुमके लगाने लगी दादी, अस्पताल का भी न रहा ख्याल

उन्‍होंने बताया कि ईश्‍वर का महत्‍व भक्ति से है. इसलिए युग बदले, मगर नहीं बदला तो ईश्‍वर के प्रति भक्ति भाव. आराध्‍य उस वक्‍त भी थे और आराध्‍य आज भी हैं. भक्ति हर जगह विद्यमान है. चाहे विवेकानंद की भक्ति हो या द्रोणाचार्य की गुरु-शिष्‍य परंपरा में. ईश्‍वर की भक्ति का न तो अंत हो सकता है और न होगा. उन्‍होंने बताया कि फिल्‍म 'डमरू' के निर्माता प्रदीप कुमार शर्मा हैं, जो खुद भी भोजपुरिया माटी से आते हैं और उनकी सोच भोजपुरी सिनेमा के स्‍तर को उपर उठाना है. इसी सोच के तहत वे भोजपुरिया संस्‍कार, भाषा और मर्यादा के मर्म दुनिया के सामने रखने का प्रयास करते रहते हैं. उनकी इसी सोच की उपज है फिल्‍म 'डमरू'.

Video: NDTV से खास बातचीत: 'बागी' टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी 




दिशा पटानी ने खोला राज, बोलीं- 'बागी थोड़ा वाइल्ड और आउट ऑफ कंट्रोल है...'

टिप्पणियां
भोजपुरी फिल्‍मों पर लगते रहे अश्‍लीलता के आरोप पर अपनी बेबाक राय रखी और कहा कि अर्थ में अनर्थ तलाशने पर अनर्थ ही मिलेगा. फूहड़ता की जहां तक बात है, तो फिल्‍म की कहानी समाज के बीच की ही होती है. उन्‍हीं परिवेश को हम पर्दे पर  दिखाते हैं. जिसका मतलब ये कभी नहीं होता है कि हम उसे बढ़ावा दे रहे हैं.

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement