ट्रेन में अटेंडेंट की सीट पर लेटे नजर आए यह बॉलीवुड एक्टर, बोले- और ऑप्शन क्या है...देखें Video

बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) अपनी जबरदस्त एक्टिंग और कॉमिक टाइमिंग की वजह से खास पहचान रखते हैं. संजय मिश्रा जब भी परदे पर आते हैं तो दर्शकों को हंसाने और रूलाने की गारंटी रहती है. लेकिन उनका यह वीडियो भी बहुत ही कमाल का है.

ट्रेन में अटेंडेंट की सीट पर लेटे नजर आए यह बॉलीवुड एक्टर, बोले- और ऑप्शन क्या है...देखें Video

संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) का ट्रेन का सफर हुआ वायरल

खास बातें

  • बॉलीवुड एक्टर का वीडियो खूब देखा जा रहा
  • ट्रेन में सफर करते आए नजर
  • ट्रेन में सफर को लेकर कही यह बात
नई दिल्ली:

बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) अपनी जबरदस्त एक्टिंग और कॉमिक टाइमिंग की वजह से खास पहचान रखते हैं. संजय मिश्रा जब भी परदे पर आते हैं तो दर्शकों को हंसाने और रूलाने की गारंटी रहती है. इसका इशारा उनकी फिल्मों से बखूबी मिल जाता है. लेकिन संजय मिश्रा सोशल मीडिया पर भी खूब एक्टिव हैं, और अपने ट्विटर एकाउंट से लगातार फोटो और वीडियो शेयर करते हैं. संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) की इन फोटो और वीडियो में उनके जीवन की झलक बखूबी देखने को मिलती है. संजय मिश्रा ने अपने ट्विटर एकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वे अगस्त क्रांति रेलगाड़ी से सफर करते नजर आ रहे हैं.

बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) ने रेल में सफर का अपना वीडियो शेयर किया है और लिखा हैः 'कभी पैसेंजर, कभी अटेंडर...सिर्फ जिंदगी के सफर का लुत्फ ले रहा हूं और ऑप्शन क्या है...' इस तरह संजय मिश्रा ने बहुत ही कमाल की बात कही है, और उनके इस वीडियो को फैन्स खूब पसंद भी कर रहे हैं. वैसे भी संजय मिश्रा समय-समय पर बहुत ही मजेदार वीडियो शेयर भी करते रहते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एक्टर और कॉमेडियन संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) का जन्म 6 अक्टूबर 1963 को बिहार के दरभंगा में हुआ था. संजय के पिता शम्भुनाथ मिश्रा पेशे से जर्नलिस्ट थे जबकि उनके दादा डिस्ट्रीक्ट मजिस्ट्रेट थे.  संजय ने अपनी एजुकेशन वाराणसी से केंद्रीय विद्यालय बीएचयू कैम्पस से की. इसके बाद इन्होंने बैचलर की डिग्री साल 1989 में पूरी करने के बाद 1991 में राष्ट्रीय ड्रामा स्कूल में एडमिशन लिया. संजय के जब पिता की डेथ हुई, तो वो एक्टिंग छोड़कर ऋषिकेश चले गए थे. जहां वो एक ढाबे पर काम करने लगे. दरअसल संजय अपने पिता के बहुत करीब थे. 

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...