शिल्पा शेट्टी की हिंदी सुधारने के पीछे है इस डायरेक्टर का हाथ, खुद कबूला ये राज

भारत का पसंदीदा डांस रियलिटी शो सुपर डांसर-चैप्टर 3 (Super Dance Chapter 3), प्रतिभाशाली प्रतियोगियों के पूल के साथ धमाकेदार वापसी कर रहा है.

शिल्पा शेट्टी की हिंदी सुधारने के पीछे है इस डायरेक्टर का हाथ, खुद कबूला ये राज

अनुराग बसु, शिल्पा शेट्टी और गीता कपूर

खास बातें

  • शिल्पा शेट्टी ने लिया न्यू ईयर रिजोलेशन
  • शुद्ध हिंदी बोलने के लिए बनाया गुरू
  • डायरेक्टर अनुराग बसु करेंगे ये काम
नई दिल्ली:

भारत का पसंदीदा डांस रियलिटी शो सुपर डांसर-चैप्टर 3 (Super Dance Chapter 3), प्रतिभाशाली प्रतियोगियों के पूल के साथ धमाकेदार वापसी कर रहा है. शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty), गीता कपूर (Geeta Kapoor) और अनुराग बसु (Anurag Basu), भारतीय टेलीविजन की सबसे पसंदीदा तिकड़ी है जो देश भर के सर्वश्रेष्ठ डांसर्स को प्रस्तुत करते हैं. यह शो दर्शकों को बहुत सारे ट्विस्ट, टर्न, घुमाव, लिफ्ट और स्टंट के साथ एक मजेदार राइड पर ले जाने का वादा करता है. प्रतियोगिताओं के बहतरीन प्रदर्शण के साथ, तीनों जजों का ताल मेल और मज़ेदार बातें देखने में भी बहुत आनन्द आएगा.

'ठाकरे' फिल्म देखने जाएंगे तो वहां मिलेगा 'शिव वड़ा पाव' का ऑफर, जानें इसके पीछे की वजह

 

 

इस साल अनुराग बसु, शिल्पा शेट्टी की हिन्दी सीखने में सहायता करते हुए दिखेंगें. एक सच्ची मुंबइकर शिल्पा शेट्टी ने इस साल अपनी हिंदी को निखारने पर ध्यान केंद्रित करने की इच्छा व्यक्त की. उनका नए साल का संकल्प उनकी हिंदी में सुधार लाना और उचित हिंदी शब्दों का उपयोग करना है. अपने दैनिक जीवन में हम उचित हिंदी शब्दों का उपयोग नहीं करते हैं और अक्सर अंग्रेजी शब्दों का उपयोग करते हैं. इसलिए शिल्पा हिंदी में बोलते हुए शुद्ध हिंदी शब्दों का उपयोग करने का प्रयास कर रही हैं. जब भी जरूरत हुई उन्होंने अनुराग बसु की मदद ली.

 

 

Four More Shots Please: चार दोस्तों की कहानी, जिंदगी की परेशानियों से यूं लड़ती दिखेंगी दमदार लड़कियां

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सेट से एक सूत्र ने कहा, “शिल्पा शेट्टी को अपनी हिंदी में सुधार लाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रयास करते देखना सुपर प्रभावशाली था. वह अच्छी तरह से तैयार थी और कुछ भारी हिंदी शब्दों का इस्तेमाल करती थी, जैसे कि आद्या, प्रयोगी, आत्मतमविश्वास, प्रतिज्ञा, ऊर्जा इत्यादि, जो हम आमतौर पर अपने दैनिक जीवन में उपयोग नहीं करते हैं. जब वह किसी विशेष शब्द के साथ फंस जाती, तो वह बिना किसी संकोच के अनुराग बसु की मदद लेती. उन्होंने अनुराग को अपना हिंदी शब्दकोष कहा. अनुराग ने शिल्पा से यहां तक कहा कि अगर वह हिंदी से नहीं चिपकी तो वह फाइन लेंगे.”

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...