बजट 2018 : रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए होंगे खर्च, 600 स्टेशनों को बनाया जाएगा आधुनिक

600 स्टेशनों को आधुनिक बनाया जाएगा. स्टेशन पर वाई-फाई और सीसीटीवी लगाए जाएंगे.  मुंबई में लोकल का दायरा बढ़ाया जाएगा. वहीं  माल ढुलाई के लिए 12 वैगन भी बनेंगे.  मुंबई में 90 किलोमीटर की पटरी और बढ़ाई जाएगी. कई जगहों पर एस्केलेटर भी लगाए जाएंगे. 3600 नई लाईनें बिछाई जाएंगी. देश में एयरपोर्ट की संख्या भी 5 गुना बढ़ाने की कोशिश होगी.

बजट 2018 :   रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए होंगे खर्च, 600 स्टेशनों को  बनाया जाएगा आधुनिक

Budget 2018 : रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए खर्च होंगे.

नई दिल्ली:

वित्त मंत्री अरुण जेटली  ने आम बजट में ऐलान किया है कि साल 2018-19 में रेलवे के लिए रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. इसमें सरकार की ओर से दिए गए 5500 करोड़ रुपये शामिल हैं. इसके अलावा यात्रियों की सुरक्षा के लिए अगले 5 साल में  1 लाख करोड़ रुपये की राशि के लिए एक राष्ट्रीय रेल संरक्षा कोष बनाया जाएगा. इसके साथ ही मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग पर हो रही दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ब्राड गेज लाइन पर मानव रहित रेलवे फाटकों को 2020 तक खत्म कर दिया जाएगा. इसके अलावा रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए खर्च होंगे. 600 स्टेशनों को आधुनिक बनाया जाएगा. स्टेशन पर वाई-फाई और सीसीटीवी लगाए जाएंगे.  मुंबई में लोकल का दायरा बढ़ाया जाएगा. वहीं  माल ढुलाई के लिए 12 वैगन भी बनेंगे.  मुंबई में 90 किलोमीटर की पटरी और बढ़ाई जाएगी. कई जगहों पर एस्केलेटर भी लगाए जाएंगे. 3600 नई लाईनें बिछाई जाएंगी. देश में एयरपोर्ट की संख्या भी 5 गुना बढ़ाने की कोशिश होगी. लेकिन रेलवे को किराए को लेकर कोई ऐलान नहीं हुआ है. 

Budget 2018: किसानों के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने की कई बड़ी घोषणाएं, 20 प्वाइंट्स में जानें

इसके साथ ही रेलवे में 18,000 किमी लाइनों के दोहरीकरण के लक्ष्य का प्रस्ताव किया और साथ ही कहा कि रेलवे की क्षमताओं के दोहन में आने वाली बाधाओं को दूर करने के मकसद से आमान परिवर्तन का काम जारी है. .मंत्री ने बताया कि आगामी वर्ष में रेलवे के लिए 36,000 किमी रेल पटरियों के नवीकरण का भी लक्ष्य रखा गया है जबकि अगले दो सालों में ब्राड गेज मार्गो पर 4267 मानव रहित रेलवे क्रासिंग को भी समाप्त किया जाएगा. 


Budget 2018: इनकम टैक्स दरों में कोई बदलाव नहीं, लेकिन ये 15 बदलाव जो आपकी ज़िन्दगी पर डालेंगे असर

Newsbeep


वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि रेलवे के क्षमता बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा. रेलवे नेटवर्क का विद्युतीकरण किया जाएगा.  साल 2018-19 के दौरान 1200 वेगन्स और 5160 कोच तैयार किए जाएंगे. सुरक्षा को लेकर नए इंतजाम किए जाएंगे.  मॉडल ट्रेन 2018-19 में चलाई जाएगी.  कोहरे में सुरक्षा के लिए नई तकनीकी का इस्तेमाल किया जाएगा. 25000  फुटफॉल्स में एस्केलेटर लगाने की योजना है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो : ब्रॉडबैंड सुविधा गांवों तक पहुंचाई जाएगी. 

गौरतलब है कि मोदी सरकार पिछले दो सालों से रेल बजट को आम बजट के साथ ही पेश कर रही है. इससे पहले रेल बजट को अलग से पेश किया जाता रहा है. भारतीय रेलवे सालों से घाटे में चल रही है. हर सरकार के सामने इस विभाग को  घाटे उबारने की चुनौती रही है. लेकिन लाख कोशिशों के बाद भी रेलवे की हालत में सुधार नहीं हो पाया है.