NDTV Khabar

इंडिगो मामला : पैसेंजर से मारपीट पर नागर विमानन मंत्री गणपति राजू ने डीजीसीए से रिपोर्ट तलब की 

अशोक गजपति राजू ने नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से इस बारे में रिपोर्ट तलब की है. राजू ने कहा कि सभ्य समाज में इस तरह की बातों को स्वीकार नहीं किया जा सकता.

69 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इंडिगो मामला : पैसेंजर से मारपीट पर नागर विमानन मंत्री गणपति राजू ने डीजीसीए से रिपोर्ट तलब की 

नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू.

नई दिल्ली: नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने इंडिगो के कर्मचारियों द्वारा एक यात्री के साथ मारपीट की घटना की कड़ी निंदा की है. उन्होंने नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से इस बारे में रिपोर्ट तलब की है. राजू ने कहा कि सभ्य समाज में इस तरह की बातों को स्वीकार नहीं किया जा सकता.

यह भी पढ़ें : इंडिगो के स्टाफ ने दिल्ली एयरपोर्ट पर पैसेंजर से की मारपीट, एयरलाइन ने माफी मांगी

जहां मंत्रालय ने इंडिगो से इस बारे में रिपोर्ट मांगी है, वहीं राजू ने कहा कि नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) इस बात की जांच करेगा कि कहीं कुछ निश्चित प्रक्रियाओं का उल्लंघन तो नहीं हुआ, क्योंकि यह घटना सुरक्षा क्षेत्र में हुई है. मंगलवार को एक वीडियो सामने आया, जिसमें दिखाया गया है कि दिल्ली हवाई अड्डे पर इंडिगो के कर्मचारी एक यात्री से मारपीट कर रहे हैं.यह घटना 15 अक्तूबर की है.

यह भी पढ़ें : प्रतिदिन एक हजार उड़ानों के साथ इंडिगो बनेगी एशिया की पांचवीं सबसे बड़ी एयरलाइन

राजू ने कहा, 'एक सभ्य समाज में इस तरह की घटनाओं की निंदा की जानी चाहिए. कार्रवाई की जानी चाहिए.' उन्होंने कहा कि नागर विमानन महानिदेशक को इस घटना पर स्वतंत्र रिपोर्ट देने को कहा गया है. उन्होंने जोर देकर कहा कि इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए. यह वीडिया सामने आने के बाद नागर विमानन राज्यमंत्री घटना की निंदा करते हुए एयरलाइन से रिपोर्ट मांगी थी. इंडिगो ने मंगलवार को इस घटना के लिए माफी मांगी थी. वीडियो में देखा जा सकता था कि एक यात्री को कोच में जाने से रोका जा रहा है और ग्राउंड स्टाफ उसे पीछे खींच रहा है. एयरलाइन का एक और कर्मचारी यात्री को पकड़ रहा है. यात्री प्रतिरोध करता और जमीन पर गिरता दिखाई दे रहा है.

VIDEO : विमान में माचिस लेकर चलते हैं उड्डयन मंत्री राजू


इससे पहले सुबह इंडिगो के प्रवर्तक राहुल भाटिया ने राजू और नागर विमानन सचिव आर एन चौबे के साथ बैठक में भाग लिया था. मंत्री ने आगे कहा कि एयरसाइड में किसी तरह का उल्लंघन खतरनाक है. मंत्री ने कहा, 'मैं समझ सकता हूं कि कुछ प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया. बीसीएएस से नोटिस भेजा जाएगा कि इनका पालन क्यों नहीं किया गया.' यह पूछे जाने पर कि एयरलाइन पर इसके लिए कुछ दंड लगाया जाएगा, राजू ने कहा कि मैंने अभी इसका अध्ययन नहीं किया है. उन्होंने कहा कि पहले डीजीसीए की रिपोर्ट आने दें. 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement