रेवन्यू के मोर्चे पर सरकार के लिए अच्छी खबर, टैक्स कलेक्शन में हुआ शानदार इजाफा

यह प्रोविज़नल राशि पिछले साल की इसी अवधि में जमा हुए नेट टैक्स की तुलना में 15.8 फीसदी ज़्यादा है. वित्तवर्ष 2017-18 के लिए डायरेक्ट टैक्स का जो बजट अनुमान (9.8 लाख करोड़ रुपये) लगाया गया था, यह राशि उसका 39.4 फीसदी है.

रेवन्यू के मोर्चे पर सरकार के लिए अच्छी खबर, टैक्स कलेक्शन में हुआ शानदार इजाफा

वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान सितंबर, 2017 तक डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन के तहत 3.86 लाख करोड़ रुपये जमा हुए हैं...

नई दिल्ली:

वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान सितंबर, 2017 तक डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन के तहत 3.86 लाख करोड़ रुपये जमा हुए हैं, और यह प्रोविज़नल राशि पिछले साल की इसी अवधि में जमा हुए नेट टैक्स की तुलना में 15.8 फीसदी ज़्यादा है. वित्तवर्ष 2017-18 के लिए डायरेक्ट टैक्स का जो बजट अनुमान (9.8 लाख करोड़ रुपये) लगाया गया था, यह राशि उसका 39.4 फीसदी है.

यह भी पढ़ें : क्या इनकम टैक्स के बारे में ये ज़रूरी बातें जानते हैं आप...?

रिफंड एडजस्ट किए जाने से पहले के कुल कलेक्शन में भी 10.3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, और यह अप्रैल से सितंबर, 2017 के बीच 4.66 लाख करोड़ रुपये रहा है. अप्रैल से सितंबर, 2017 के बीच 79,660 करोड़ रुपये के रिफंड भी जारी किए गए.

यह भी पढ़ें : क्या है पीएफ - जानें पीएफ से जुड़े सभी सवालों के जवाब

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

30 सितंबर, 2017 तक एडवांस टैक्स के रूप में 1.77 लाख करोड़ रुपये प्राप्त हुए, जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में जमा हुए एडवांस टैक्स राशि से 11.5 फीसदी ज़्यादा हैं. कॉरपोरेट इनकम टैक्स एडवांस टैक्स में 8.1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, और पर्सनल इनकम टैक्स एडवांस टैक्स में 30.1 फीसदी की वृद्धि हुई है.

VIDEO: आधार नंबर को पैन कार्ड से जोड़ने का तरीका