NDTV Khabar

तेजी से बढ़ रहा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, सितंबर तक पहुंच सकता है 400 अरब डॉलर

मॉर्गन स्टेनली के शोध नोट में कहा गया है कि यदि विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि की दर पिछले चार सप्ताह की तरह की रहती है तो 8 सितंबर, 2017 को यह 400 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा.

43 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजी से बढ़ रहा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, सितंबर तक पहुंच सकता है 400 अरब डॉलर

पिछले 12 माह में जापान को छोड़कर एशिया में विदेशी मुद्रा भंडार में सबसे अधिक वृद्धि भारत में हो रही है.

नई दिल्ली: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार सितंबर तक 400 अरब डॉलर पर पहुंच सकता है. मॉर्गन स्टेनली की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पूंजी का प्रवाह बढ़ने और ऋण के कमजोर उठाव से विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ेगा. वैश्विक वित्तीय सेवा क्षेत्र की कंपनी के अनुसार देश का विदेशी मुद्राभंडार अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर है और 2015 से यह काफी तेज रफ्तार से बढ़ रहा है. 4 अगस्त को देश का विदेशी मुद्रा भंडार 393 अरब डॉलर के रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंच गया.

ये भी पढ़ें: भारतीय मूल के चार व्यक्ति अमेरिका के शीर्ष संपत्ति सलाहकारों में शामिल: फोर्ब्स

मॉर्गन स्टेनली के शोध नोट में कहा गया है कि यदि विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि की दर पिछले चार सप्ताह की तरह की रहती है तो 8 सितंबर, 2017 को यह 400 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा.

ये भी पढ़ें: भारत की वृद्धि दर 7.7 प्रतिशत रहने का अनुमान : मोर्गन स्टेनली

नोट में कहा गया है कि पिछले 12 माह में जापान को छोड़कर एशिया में विदेशी मुद्रा भंडार में सबसे अधिक वृद्धि भारत में हो रही है.

मॉर्गन स्टेनली का कहना है कि विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़ोतरी की प्रमुख वजह पूंजी का सतत प्रवाह और ऋण का कमजोर उठाव है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement