NDTV Khabar

GST का असर, ट्रकों की यात्रा में लगने वाले समय में 20 प्रतिशत की कमी आई

औसत आधार पर भारत में एक ट्रक 60,000 किलोमीटर की वार्षिक दूरी तय करता है, जबकि पश्चिमी देशों में यह आंकड़ा 2,00,000 किलोमीटर है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
GST का असर, ट्रकों की यात्रा में लगने वाले समय में 20 प्रतिशत की कमी आई

फाइल फोटो

खास बातें

  1. चुंगियों को हटाए जाने से ट्रक अब ज्यादा दूरी तय कर रहे हैं
  2. पहले एक ट्रक को चेन्नई से कोलकाता पहुंचने में 50-65 घंटे का समय लगता था
  3. अब इस अवधि में 20 की कमी आई है
नई दिल्ली:

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय का कहना है कि माल एवं सेवाकर यानी जीएसटी लागू होने के बाद ट्रकों की यात्रा में लगने वाले समय में पांचवें हिस्से के बराबर कमी आई है. मंत्रालय ने हाल में एक रिपोर्ट में कहा, 'एक आम ट्रक (जीएसटी से पहले) अंतरराज्यीय चुंगियों पर अपनी कुल यात्रावधि का करीब 20% समय व्यय करता था. अब इन चुंगियों को हटा दिया गया है, इसलिए ट्रकों और अन्य मालवाहक वाहनों की यात्रा अवधि में कम से कम पांचवें हिस्से के बराबर कमी आई है.'
यह भी पढ़ें
जीएसटी लागू होने के 15 दिन में ही सरकार के आ गए 'अच्छे दिन', आपके आए क्या?

औसत आधार पर भारत में एक ट्रक 60,000 किलोमीटर की वार्षिक दूरी तय करता है, जबकि पश्चिमी देशों में यह आंकड़ा 2,00,000 किलोमीटर है.


टिप्पणियां

VIDEO : जीएसटी से ट्रक ड्राइवरों को बड़ी राहत
मंत्रालय ने कहा कि पहले चेन्नई से कोलकाता एक ट्रक को पहुंचने में 50-65 घंटे का समय लगता था और अब इसमें 20% की कमी आई है. इस आकलन के लिए ट्रांसपोर्टरों के साक्षात्कार के साथ-साथ जीपीएस आंकड़े भी जुटाए गए हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement