CBSE ने दसवीं बोर्ड के पासिंग मार्क्स में किया बड़ा बदलाव, पास होने के लिए लाने होंगे अब इतने मार्क्स  

पासिंग मार्क्स में किया गया यह बदलाव मुख्य रूप से दसवीं के छात्रों पर लागू होगा. बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार यह फैसला मुख्य रूप से छात्रों को राहत के देने के लिए लिया गया है.

CBSE ने दसवीं बोर्ड के पासिंग मार्क्स में किया बड़ा बदलाव, पास होने के लिए लाने होंगे अब इतने मार्क्स  

सीबीएसई की फाइल फोटो

खास बातें

  • इसी बार से लागू होंगे यह नियम
  • बोर्ड के अनुसार छात्रों को राहत देने के लिए लिया गया फैसला
  • पिछले साल ही नियमों में हुए थे बदलाव
नई दिल्ली:

CBSE बोर्ड ने पासिंग मार्क्स में बड़ा बदलाव किया है. नए बदलाव के तहत अब से छात्रों को ओवरऑल 33 फीसदी अंक लाने होंगे. इसमें इंटरनल एसेसमेंट और थियोरी के अंक भी शामिल होंगे. पासिंग मार्क्स में किया गया यह बदलाव मुख्य रूप से दसवीं के छात्रों पर लागू होगा. बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार यह फैसला मुख्य रूप से छात्रों को राहत के देने के लिए लिया गया है. यह नियम इसी बार के बोर्ड परीक्षा से लागू होगा.

यह भी पढ़ें: CBSE BOARD: परीक्षा की तैयारी के आखिरी दौर में भूल से भी न करें ये 3 गलतियां

यह नियम अतिरिक्त विषयों पर भी लागू होगा. गौरतलब है कि 30 जनवरी 2017 को सीबीएसई बोर्ड ने दसवीं बोर्ड की परीक्षा को दोबारा से शुरू करने की बात कही थी. बोर्ड ने ही उस दौरान सभी विषय अलग-अलग पास करने के लिए 33 फीसदी अंक लाने की अनिवार्यता तय की थी.वहीं वोकेशनल विषय के लिए इंटरनल एससमेंट के 50 अंक है. अलग-अलग विषय में अलग से पास करने का नियम इस कोर्स पर लागू नहीं होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: एनसीईआरटी की किताबों को लेकर बवाल.

बोर्ड ने कुछ दिन पहले ही बोर्ड परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी किया था. छात्र अपने स्कूल से एडमिट कार्ड ले सकते हैं. बोर्ड ने प्री-बोर्ड परीक्षा में खराब प्रदर्शन करने वाले छात्रों को भी एडमिट कार्ड देने की बात कही थी.