NDTV Khabar

यूनेस्को एग्जीक्यूटिव बोर्ड के लिए नॉमिनेट हुए NCERT के पूर्व निदेशक

राजपूत द्वारा संपादित पुस्‍तक ‘एजुकेशन ऑफ मुस्लिम इन इंडिया’ को 15 जून, 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिलीज किया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूनेस्को एग्जीक्यूटिव बोर्ड के लिए नॉमिनेट हुए NCERT के पूर्व निदेशक
नई दिल्ली: मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एनसीआरटी के पूर्व निदेशक जे एस राजपूत को यूनेस्को के एग्जीक्यूटिव बोर्ड (ईएक्सबी) में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए नामित किया है. मंत्रालय ने अपने एक बयान में यह जानकारी दी.

टिप्पणियां
राजपूत द्वारा संपादित पुस्‍तक ‘एजुकेशन ऑफ मुस्लिम इन इंडिया’ को 15 जून, 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिलीज किया था.
 
शैक्षणिक संस्थाओं के मूल्यांकन प्रक्रिया में नैक ने छात्र, अभिभावक संतुष्टि पर विस्तृत प्रश्नोत्तरी को जोड़ा
 
वर्ष 2014 में पद्म श्री से सम्मानित किए गए राजपूत ने हाल ही में शिक्षा के माध्यम से धार्मिक एकता कायम करने के उद्देश्य से जुड़ी एक परियोजना को पूरा किया और वह बीएड. पत्राचार पाठ्यक्रम विनियमन के लिए भी जाने जाते हैं. बोर्ड की अगली बैठक पेरिस स्थित यूनेस्को के मुख्यालय में 4 से 17 अप्रैल के बीच होनी है.

बोर्ड संगठन के कार्यों और संबंधित बजट अनुमानों की जांच करता है. आप कह सकते हैं कि यह यूनेस्को की सभी नीतियों और कार्यक्रमों के लिए जिम्मेदार है.
 
BITSAT 2018 के लिए स्‍लॉट बुक करने की सुविधा हुई शुरू

EXB में 58 सीटें होती हैं और इसके सदस्‍यों का चयन चार साल की अवधि के लिए होता है. यह यूनेस्को के संवैधानिक अंगों में से एक है और इसे जनरल कॉन्फ्रेंस द्वारा चुना जाता है. 2017-21 की अवधि के लिए EXB के सदस्यों का चुनाव 8 नवंबर, 2017 को हुआ था, जिसमें 30 अक्टूबर से 14 नवंबर, 2017 तक आयोजित जनरल सम्मेलन के 39वें सत्र के दौरान चौथे ग्रुप में भारत 162 मतों से जीता था.
 
करियर की और खबरों के लिए क्लिक करें
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement